राघौगढ़ किले से जुड़े है गुना हत्याकांड के तार, BJP अध्यक्ष वीडी शर्मा का बड़ा आरोप, दिग्विजय का अपराधियों से बताया कनेक्शन

Author विकास सिंह| पुनः संशोधित शनिवार, 14 मई 2022 (17:36 IST)
हमें फॉलो करें
भोपाल। मध्यप्रदेश में गुना के आरोन में तीन पुलिसकर्मियों की हत्या के मामले पर भी सियासत शुरु हो गई है। प्रदेश वीडी शर्मा ने कहा घटना के आरोपी

राघौगढ़ किले से लगे गांव के है और इसकी जांच होनी चाहिए कि बदमाशों के पास इतनी बड़ी संख्या में हथियार कहा से आए। वहीं ऐसे दुर्दांत अपराधी जो पुलिस पर गोलियां बरसाते हैं उनको किनका संरक्षण मिल रहा है।
भाजपा प्रदेश अध्यक्ष ने सीधे पूर्व मुख्यमंत्री को घेरते हुए कहा कि दिग्विजय सिंह इस बात का जवाब दें कि उनका दुर्दांत अपराधियों के साथ क्या संबंध है? भाजपा अध्यक्ष ने आरोप लगाते हुए कहा कि स्थानीय लोगों का आरोप है राधौगढ़ किले से जुड़े लोग आज से नही लगातार ऐसा करते आए हैं। इस बात की जांच होनी चाहिए कि दिग्विजय सिंह का आरोपियों से क्या संबंध है, जांच एजेंसियों को भी इस संबंध में जांच करनी चाहिए।
भाजपा प्रदेश अध्यक्ष के आरोपों का दिग्विजय सिंह ने सोशल मीडिया के जरिए जवाब देते हुए कहा कि केंद्र और मध्यप्रदेश में भाजपा की सरकार है, भाजपा सरकार जाँच करवाएँ जो भी दोषी हों उन्हें इस जघन्य अपराध करने की सख़्त से सख़्त सज़ा दें।

क्या है पूरा मामला- मध्यप्रदेश के गुना जिले में आरोन थाना इलाके में काले हिरण के शिकारियों ने एक एसआई सहित 3 पुलिसकर्मियों की गोली मारकर हत्या कर दी है। आरोन थाना में तैनात एसआई राजकुमार जाटव, प्रधान आरक्षक नीरज भार्गव और आरक्षक संतराम मीणा रात्रि गश्त पर थे, तड़के 2.30 से 3 बजे के बीच पुलिस टीम की काले हिरण के शिकारियों से आमान-सामान हो गया। पुलिस को देखकर शिकारियों ने फायरिंग शुरु कर दी जिसमें एसआई राजकुमार जाटव, प्रधान आरक्षक नीरज भार्गव और संतराम की मौके पर‌ मौत हो गई है। वहीं गाड़ी का ड्राइवर लखनगिरी गोली लगने से गंभीर रूप से घायल हो गए, जिनका गुना के अस्पताल में इलाज जारी है। वहीं पुलिस की क्रास फायरिंग में घायल हुए शिकारी नौशाद का शव राघोगढ़ के बिदौरिया गांव से पुलिस ने बरामद किया है।




और भी पढ़ें :