स्पेसएक्स के अगले मिशन पर कौन जाएगा अंतरिक्ष की सैर पर

DW| Last Updated: सोमवार, 13 सितम्बर 2021 (15:52 IST)
15 सितंबर को पहली बार में एक ऐसे दल को भेजने वाली है जिसमें एक भी पेशेवर अंतरिक्ष यात्री नहीं होगा। मिलिए एक रोमांचक अंतरिक्ष यात्रा पर निकलने वाले इन लोगों से। स्पेसएक्स के अगले मिशन को 'इंस्पिरेशन फोर' नाम दिया गया है जिसमें चार ऐसे यात्री शामिल होंगे जिनमें से कोई भी पेशेवर अंतरिक्ष यात्री नहीं है। इस तरह के दल को अंतरिक्ष मिशन पर भेज कर यह संकेत देने की कोशिश की जा रही है कि अंतरिक्ष अब सबके लिए खुल रहा है।
इस प्रोजेक्ट के पीछे हैं अरबपति व्यापारी जैरेड आइजैकमैन। उन्होंने ही अपने खर्च पर इस पूरे मिशन को किराए पर ले लिया था और फिर 3-3 अनाम लोगों को उनके साथ चलने के लिए आमंत्रित किया। उनके सहयात्रियों को चुनने के लिए एक अनूठी चयन प्रक्रिया को अपनाया गया।

अंतरिक्ष में पुरानी दिलचस्पी

38 साल के आइजैकमैन 'शिफ्ट4पेमेंट्स' नाम की कंपनी के संस्थापक हैं और इस मिशन के कमांडर हैं। उनकी कंपनी दुकानों और रेस्तरां को बैंक कार्ड लेनदेन पूरा करने के लिए सेवाएं देती है। उन्होंने इस कंपनी को 16 साल की उम्र में अपने घर के बेसमेंट से शुरू किया था।
उन्हें हवाई जहाज उड़ाना बहुत पसंद है और उनके पास एक हल्के जेट में पूरी दुनिया का चक्कर लगाने का रिकॉर्ड है। वो कई सैन्य जहाज उड़ाने के भी काबिल हैं। 2012 में उन्होंने 'ड्राकेन इंटरनैशनल' नाम की एक और कंपनी की स्थापना की जो अमेरिकी वायु सेना के पायलटों को प्रशिक्षण देती है।

आइजैकमैन शादीशुदा हैं और दो बच्चियों के पिता हैं। अंतरिक्ष पर्यवेक्षण में भी उनकी काफी दिलचस्पी रही है। 2008 में उन्होंने कजाकिस्तान से एक रूसी राकेट का प्रक्षेपण देखा, जो अंतरराष्ट्रीय अंतरिक्ष स्टेशन (आईएसएस) जाने वाले पहले निजी पर्यटक रिचर्ड गैरियट को अंतरिक्ष में ले गया।
29 साल की अंतरिक्ष यात्री

उसके बाद ही उन्होंने स्पेसएक्स से संपर्क किया। इस मिशन पर जाने वाले हर यात्री की सीट एक नैतिक मूल्य का प्रतिनिधित्व करती है। आइजैकमैन की सीट 'नेतृत्व' का प्रतिनिधित्व करती है। यान पर दूसरी यात्री हेली आर्सेनो एक कैंसर सर्वाइवर हैं। उन्हें बचपन में ही कैंसर हो गया था। उनका इलाज अमेरिका के टेनिसी राज्य के मेम्फिस शहर में हुआ था जिसके लिए आइजैकमैन ने एक फंडरेजर आयोजित किया था। आज आर्सेनो उसी अस्पताल में एक फिजिशियन असिस्टेंट के रूप में काम करती हैं।
उनकी उम्र 29 साल है और वो अंतरिक्ष में पृथ्वी के चारों ओर ऑर्बिट में भेजे जाने वाली सबसे कम उम्र की अमेरिकी नागरिक होंगी। वो एक कृत्रिम अंग लिए अंतरिक्ष यात्रा करने वाली भी पहली व्यक्ति होंगी। वो इस मिशन की चिकित्सा प्रबंधक हैं। उनकी सीट 'उम्मीद' का प्रतिनिधित्व करती है।

मिशन पर तीसरी यात्री होंगी सियैन प्रॉक्टर। वो 51 साल की हैं और एरिजोना के एक छोटे से कॉलेज में जियोलॉजी पढ़ाती हैं। उनका जन्म गुआम में हुआ था और उनके पिता ने अपोलो मिशनों के दौरान नासा के लिए काम किया था।
अलग-अलग क्षेत्रों से हैं यात्री

प्रॉक्टर ने हवाई में मंगल ग्रह जैसे हालात में रहने के एक प्रयोग में हिस्सा लिया था और एक अंतरिक्ष यात्री बनने के लिए नासा में दो बार आवेदन किया था। 2009 में 3,500 उम्मीदवारों में से अंतिम दौर में पहुंचने वाले करीब दो दर्जन लोगों में वो भी शामिल थीं। वो अंतरिक्ष में जाने वाली सिर्फ चौथी अफ्रीकी अमेरिकन होंगी।

वो मिशन की पायलट होंगी और कमांडर की सहायक भी। उनकी सीट 'समृद्धि' का प्रतिनिधित्व करती है। उन्होंने इसे एक प्रतियोगिता जीत कर हासिल किया जिसे आइजैकमैन की कंपनी ने आयोजित किया था। प्रतियोगिता में उन्होंने अंतरिक्ष से जुड़ी एक ऑनलाइन सेल्स वेबसाइट बनाई थी।
चौथे यात्री हैं क्रिस्टोफर सेमब्रोस्की जो इराक में अमेरिकी वायु सेना में अपनी सेवाएं दे चुके हैं। सेमब्रोस्की अब ऐरोनॉटिक्स उद्योग में काम करते हैं और वॉशिंगटन में लॉकहीड मार्टिन कंपनी के लिए काम करते हैं। सेंट जूडस अस्पताल के लिए एक फंडरेजर में चंदा देने के बाद उन्हें इस मिशन के लिए चुना गया। सेमब्रोस्की की सीट 'उदारता' का प्रतिनिधित्व करती है। मिशन के दौरान उनका काम होगा यान पर मौजूद कार्गो का प्रबंधन करना और पृथ्वी के साथ संचार का प्रबंधन करना।(फ़ाइल चित्र)
सीके/वीके (एएफपी)



और भी पढ़ें :