अमेजॉन ने क्या-क्या रिकॉर्ड किया, जानकर हैरान रह गए लोग

DW| पुनः संशोधित सोमवार, 22 नवंबर 2021 (10:08 IST)
ई-कॉमर्स कंपनी अपने ग्राहकों का डाटा सेव करती है। लेकिन उसमें कैसी-कैसी जानकारियां रिकॉर्ड होती हैं, यह जानकर लोग हैरान रह गए। निजता और सुविधा के बीच की यह उलझन बहुत बड़ी है।

अमेरिका के वर्जीनिया में सांसद इब्राहिम समीरा को ये तो पता था कि अमेजॉन उनकी निजी जानकारियां जमा करती है लेकिन जब उनके सामने आया कि यह कंपनी उनके बारे में क्या-क्या जानती है, तो समीरा के होश फाख्ता हो गए।
अमेरिकी ई कॉमर्स कंपनी अमेजॉन के पास समीरा के फोन में मौजूद 1,000 से ज्यादा कॉन्टैक्ट नंबर थे। उसे ये पता था कि समीरा ने पिछले साल 17 दिसंबर को कुरान का कौन सा हिस्सा सुना था। कंपनी को हर उस चीज की जानकारी थी जो उन्होंने इंटरनेट पर सर्च की थी। इनमें वे सर्च भी शामिल थीं जिन्हें समीरा निजी मानते हैं। वर्जीनिया के हाउस ऑफ डेलीगेट्स के सदस्य इब्राहिम समीरा पूछते हैं, "वे सामान बेच रहे हैं या आम लोगों की जासूसी कर रहे हैं?”
इसी साल की शुरुआत में वर्जीनिया ने एक कानून पास किया है। अमेजॉन का ही बनाया यह कानून राज्य के निजता अधिकारों के बारे में है। समीरा उन सांसदों में से हैं जिन्होंने इस कानून का विरोध किया था। समाचार एजेंसी रॉयटर्स के अनुरोध पर समीरा ने अमेजॉन से पूछा कि बतौर ग्राहक कंपनी ने उनके बारे में क्या-क्या जानकारियां जमा की हैं।

अमेरिका में अमेजॉन अपने ग्राहकों के बारे में बहुत विस्तृत जानकारियां जमा करती है। नए नियम हैं कि ग्राहक अमेजॉन से पूछ सकते हैं कि उनकी क्या-क्या जानकारियां जमा की गई हैं। इस रिपोर्ट के लिए रॉयटर्स के सात संवाददाताओं ने भी कंपनी से अपनी जानकारियां मांगीं।
अमेजॉन अपनी डिवाइस आलेक्सा के अलावा अपनी विभिन्न ऐप जैसे किंडल ई-रीडर, ऑडिबल, वीडियो और म्यूजिक प्लैटफॉर्म आदि के जरिए ग्राहकों के बारे में बहुत सा डेटा जमा करती है। आलेक्सा से जुड़ी डिवाइस के घर के अंदर की रिकॉर्डिंग होती है और बाहर लगे कैमरे हर आने जाने वाले को रिकॉर्ड करते हैं।

सब जानती है अमेजॉन
इन जानकारियों के आधार पर अमेजॉन आपकी कद-काठी, वजन, नस्ल, रंग, राजनीतिक झुकाव, पसंद-नापसंद आदि का आसानी से अंदाजा लगा सकती है। उसे यह भी पता है कि आप किस तारीख को किससे मिले थे और क्या बात की थी।
रॉयटर्स के एक रिपोर्टर के बारे में मिली जानकारियों के मुताबिक दिसंबर 2017 और जून 2021 के बीच अलेक्सा ने 90 हजार रिकॉर्डिंग की थीं, यानी रोजाना लगभग 70 रिकॉर्डिंग। इनमें उस रिपोर्टर के बच्चों के नाम और उनके पसंदीदा गाने तक जाहिर थे।

अमेजॉन ने बच्चों की आपसी बातचीत भी रिकॉर्ड की, जिसमें वे कह रहे थे कि मम्मी-पापा को खेलने जाने के लिए या वीडियो गेम खरीदने के लिए कैसे मनाएं। कुछ रिकॉर्डिंग परिवार के सदस्यों की आपसी बातचीत की भी थीं जिनमें वे आलेक्सा के जरिए घर के अलग-अलग हिस्सों में बैठकर एक दूसरे से बात कर रहे थे। एक रिकॉर्डिंग में एक बच्चे को आलेक्सा से पूछते सुना जा सकता है, "आलेक्सा, वजाइना क्या होता है।”
रिपोर्टर को अंदाजा नहीं था कि अमेजॉन इन सारी रिकॉर्डिंग को सुरक्षित रखती है। कंपनी का कहना है है कि आलेक्सा को इस तरह डिजाइन किया गया है कि वह कम से कम चीजें रिकॉर्ड करे।

ग्राहकों की सुविधा के लिए
एक बयान अमेजॉन ने कहा कि उसके वैज्ञानिक और इंजीनियर सेवाओं और को बेहतर बनाने के लिए लगातार प्रयासरत हैं। कंपनी की सफाई है कि जब ग्राहक अपना खाता बनाते हैं तो उन्हें बताया जाता है कि रिकॉर्डिंग सुरक्षित रखी जाएंगी।
अमेजॉन ने कहा कि निजी जानकारियों का डेटा ग्राहकों के लिए सेवाओं को बेहतर बनाता है और उनके हिसाब के प्रॉडक्ट उपलब्ध करवाने के काम आता है। जब कंपनी से पूछा गया कि समीरा के कुरान सुनने की रिकॉर्डिंग क्यों सुरक्षित रखी गई तो उसने कहा कि ऐसा डाटा यह सुविधा देता है कि ग्राहक ने जहां से छोड़ा था, दोबारा वहीं से शुरू कर सके।

कंपनी के मुताबिक ग्राहकों के लिए इस डाटा को डिलीट करने का एकमात्र तरीका अपना खाता बंद कर देना है। हालांकि, उसके बाद भी कानूनी आवश्यकता के तहत कुछ डेटा जैसे कि ग्राहक ने क्या खरीदा, यह जानकारी रखी जाती है।
वीके/एए (रॉयटर्स)



और भी पढ़ें :