जिस देश से कभी नहीं जीते थे टी-20, कोहली की अगुवाई में उसे 5-0 से हरा पायी थी टीम इंडिया

पुनः संशोधित शुक्रवार, 17 सितम्बर 2021 (10:30 IST)
नई दिल्ली: कप्तान विराट कोहली की कप्तानी पर आए दिन कई बार सवाल उठे हैं लेकिन फैंस को जानकर हैरानी होगी कि उनकी कप्तानी में उन्होंने वह काम करके दिखाया जो महेंद्र सिंह धोनी भी नहीं दिखा सके।

जिस टीम को 1 मैच हराने में भारत को 13 साल इंतजार करना पड़ा उस टीम को विराट कोहली की कप्तानी में भारत ने ना केवल हराया बल्कि सीरीज में एक भी मैच नहीं जीतने दिया।

यह टीम है न्यूजीलैंड, जिस टीम से साल 2007 के टी-20 विश्वकप तक में भारत हार गया था जिसे आगे चलकर भारत जीता। इसके बाद घर हो या बाहर न्यूजीलैंड को टी-20 मैचों में भारत हरा नहीं पाया था।

साल 2020 में 5 मैचों की सीरीज में विराट की कप्तानी में ना केवल न्यूजीलैंड से भारत ने अपना पहला मैच जीता बल्कि न्यूजीलैंड को एक मैच में भी विजयी नहीं होने दिया और 5-0 से श्रंखला अपने नाम की।

इनमें से दो मैच तो टाई हुए थे और भारत सुपर ओवर में लगातार 2 मैच जीता था। इस सीरीज में केएल राहुल ने शानदार बल्लेबाजी की थी जिस कारण उन्हें मैन ऑफ द सीरीज का पुरुस्कार दिया गया था। इस सीरीज के साथ ही कप्तान विराट कोहली ने सबसे ज्यादा टी-20 सीरीज जीतने का रिकॉर्ड बना लिया था।

कहां इससे पहले भारत कुल 5 टी-20 मैच न्यूजीलैंड से हार चुका था कहां एक ही सीरीज में 5 मैच जीतकर टी-20 में न्यूजीलैंड से हिसाब चुकता कर लिया।

SENA Countries में जीतना शुरु किया

भारत ने कोहली के नेतृत्व में कोई आईसीसी ट्रॉफी नहीं जीती है लेकिन दक्षिण अफ्रीका, न्यूजीलैंड, इंग्लैंड और आस्ट्रेलिया (SENA Countries) के अलावा वेस्टइंडीज में भी टी20 श्रृंखला जीतने में सफल रहा।

कोहली ने 2017 में टी20 प्रारूप में भारत की कमान संभाली और उसी साल श्रीलंका के खिलाफ एकमात्र मैच के रूप में अपनी पहली द्विपक्षीय टी20 श्रृंखला जीती।सेना देशों में भारत ने पहली श्रृंखला दक्षिण अफ्रीका में 2018 में 2-1 से जीती। इसी साल भारत ने इंग्लैंड की मजबूत टीम को उसी की सरजमीं पर 2-1 से हराया।

भारत ने 2020 में ऑस्ट्रेलिया में एक दिवसीय श्रृंखला गंवाने के बाद टी20 श्रृंखला में वापसी करते हुए 2-1 से जीत दर्ज की। हाल में भारत ने इंग्लैंड को स्वदेश में 3-2 से हराया और कोहली को उस श्रृंखला का सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी चुना गया। कोहली टी20 प्रारूप में 52.65 की औसत से 3159 रन के साथ सबसे सफल बल्लेबाज हैं और उनका सर्वश्रेष्ठ स्कोर नाबाद 94 रन है।

धोनी से भी बेहतर है जीत प्रतिशत

विराट कोहली आखिरी बार भारत के टी20 कप्तान के रूप में अगले महीने शुरू होने वाले विश्व कप में खिताब जीतने के इरादे से उतरेंगे। यूएई में होने वाले टूर्नामेंट का नतीजा हालांकि कुछ भी हो वह इस प्रारूप में कप्तान के रूप में अपने रिकॉर्ड पर गर्व कर सकते हैं।

भारत ने महेंद्र सिंह धोनी के नेतृत्व में 2007 में पहला टी20 विश्व कप जीता था लेकिन इस प्रारूप में भारत की जीत का प्रतिशत कोहली के नेतृत्व में उनसे बेहतर है।कोहली के नेतृत्व में भारत ने 45 में से 27 मैच जीते। दो मैच टाई रहे जबकि दो मैच रद्द हो गए। उनकी जीत का प्रतिशत 65.11 है।



और भी पढ़ें :