फिर बाहर जाती गेंद पर गंवाया कोहली ने विकेट, पुजारा रहाणे भी हुए ट्रोल (वीडियो)

Last Updated: बुधवार, 29 दिसंबर 2021 (19:26 IST)
हमें फॉलो करें
पहले सत्र में विराट कोहली और चेतेश्वर पुजारा क्रीज पर 18 और 12 रन बनाकर डटे हुए थे। विराट कोहली को एक बार पगबाधा में भाग्य का साथ मिला तो पुजारा का कैच रबाड़ा ने टपकाया। लेकिन इन दोनों खिलाड़ियों का भाग्य ज्यादा देर तक इनके साथ नहीं चल पाया।

विराट कोहली दूसरे सत्र की पहली ही गेंद पर जानसेन की गेंद पर कॉक को कैच थमा बैठे। विराट कोहली इस साल ज्यादातर इस ही अंदाज में अपना विकेट गंवाते रहे, यह सिलसिला भारत से लेकर दक्षिण अफ्रीका तक जारी रहा।
इसके बाद पुजारा भी लूंगी एन्गिडी का शिकार बन गए और 16 रनों पर चलते बने। कोहली के बाद बुरे फॉर्म के साथ पुजारा के साथ साथ निभाने आए रहाणे भी सिर्फ 20 रन बनाकर जानसेन की शॉर्ट गेंद का शिकार हो गए।

भारतीय मध्यक्रम की एक और नाकामी के कारण क्रिकेट फैंस को काफी निराशा हुई। यह निराशा ट्विटर पर व्यंग्य के माध्यम से उजागर हुई। खासकर कोहली के ऑफ साइ़ की गेंद से छेड़छाड़ करने के रवैये से फैंस खासा निराश हुए।

हालांकि बॉक्सिंग डे टेस्ट में भारत की स्थिति मजबूत ही कही जाएगा लेकिन मध्यक्रम का बुरा फॉर्म जारी रहा जो आने वाली सीरीज के लिए भारत के लिए अच्छे संकेत नहीं है।

कप्तान विराट कोहली (18) अच्छी लय में दिख रहे थे लेकिन लंच के बाद पहली गेंद पर ढीला शॉट खेलकर उन्होंने जेनसन को अपना विकेट इनाम में दिया।

रन बनाने के लिये जूझ रहे चेतेश्वर पुजारा (64 गेंदों पर 16) का पहले सत्र में एनगिडी की गेंद पर रबाडा ने शार्ट मिडविकेट पर उनका आसान कैच छोड़ा था। पुजारा इसका फायदा नहीं उठा पाये और इसी गेंदबाज की लेग साइड की गेंद उनके बल्ले का किनारा लेकर क्विंटन डिकॉक के सुरक्षित हाथों में चली गयी।

अजिंक्य रहाणे (20) ने जेनसन की लगातार गेंदों पर दो चौकों और एक छक्का जड़कर अपना आत्मविश्वास दिखाया लेकिन इसी गेंदबाज की शार्ट पिच गेंद पर उनका हुक नियंत्रित नहीं था जिसे रॉसी वान डर डुसेन ने बैकवर्ड स्क्वायर लेग पर आसानी से कैच किया।

रविचंद्रन अश्विन (14) एक बार डीआरएस के सहारे क्रीज पर टिके रहे लेकिन दूसरे अवसर पर तीसरे अंपायर का फैसला भी उनके खिलाफ गया। पंत ने अपनी पारी में छह चौके लगाये लेकिन रबाडा की शार्ट पिच गेंद पर पुल करने की अनिश्चितता में वह मिड ऑन पर कैच दे बैठे। इसके बाद भारतीय पारी सिमटने में देर नहीं लगी।

भारत की तरफ से दूसरी पारी में ऋषभ पंत ने सर्वाधिक 34 रन बनाये जबकि उसके बाद दूसरा बड़ा स्कोर अतिरिक्त रन (27) का था।



और भी पढ़ें :