विश्व कप टीम में ना चुने जाने से कुलदीप यादव निराश

पुनः संशोधित मंगलवार, 6 जनवरी 2015 (21:37 IST)
हमें फॉलो करें
कानपुर। विश्व कप क्रिकेट के अंतिम 15 खिलाड़ियों में जगह न बना पाने से कानपुर के ‘चाइनामैन’ गेंदबाज थोड़ा निराश जरूर है लेकिन नाउम्मीद बिल्कुल नहीं है। उनका मानना है कि उन्हें टीम इंडिया में अपनी जगह पक्की करने के लिए अभी और कड़ी मेहनत करनी पड़ेगी और इसके लिए वह पूरी तरह से कमर कस चुके है।
 
आज सुबह से कानपुर के जाजमउ इलाके में कुलदीप के घर के बाहर मीडिया की भारी भीड़ लगी थी उधर घर के अंदर कुलदीप के रिश्तेदारों दोस्तों की भारी भीड़ जमा थी सबको इंतजार था कि कब विश्व कप टीम के अंतिम 15 खिलाड़ियों का नाम घोषित हो और उसमें अपने कुलदीप का नाम हो। कुछ दोस्तो और प्रशंसकों ने तो मिठाई और फूलों का भी इंतजाम कर रखा था, लेकिन दोपहर जैसे ही टीम का ऐलान हुआ और उसमें अंतिम 15 खिलाड़ियों में कुलदीप का नाम न होने से सबके चेहरे पर उदासी छा गई।
 
कुलदीप ने बताया कि मैं विश्व कप टीम के अंतिम 15 में अपना नाम न पाने से निराश जरूर हूं लेकिन नाउम्मीद नही हूं। मैं अब और कड़ी मेहनत करूंगा ताकि टीम इंडिया में अपनी जगह पक्की कर सकूं। मैं अब लगातार अभ्यास करूंगा और मुझे उम्मीद है कि एक दिन मैं टीम इंडिया में जोरदार वापसी करूंगा।
 
हाथ में चोट लगने के कारण लखनऊ में चल रहे उत्तर प्रदेश बड़ौदा के बीच रणजी ट्रॉफी मैच नही खेल रहे कुलदीप ने कहा कि अब मेरी चोट ठीक हो गई है और जल्द ही मैं रणजी ट्रॉफी मैचों में शामिल होऊंगा। उत्तर प्रदेश क्रिकेट एसोसिएशन के पदाधिकारी कुलदीप यादव के चयनित न होने से तो उदास है लेकिन कहा कि प्रदेश के दो अन्य क्रिकेटर सुरेश रैना और भुवनेश्वर कुमार विश्वकप टीम में हैं।
 
यूपीसीए के सीईओ ललित खन्ना ने कहा कि कुलदीप ऐसे ही लगन और मेहनत से क्रिकेट खेलते रहे तो एक दिन वह जरूर विश्वकप और टीम इंडिया दोनो का महत्वपूर्ण हिस्सा होंगे।(भाषा) 



और भी पढ़ें :