कमिंस की टेस्ट कप्तानी में स्मिथ बने रोड़ा, चयनकर्ताओं ने बोर्ड को भेजा प्रस्ताव

पुनः संशोधित रविवार, 21 नवंबर 2021 (19:36 IST)
मेलबर्न: अनुभवी बल्लेबाज ऑस्ट्रेलियाई टेस्ट टीम की कप्तानी के मजबूत उम्मीदवारों में से एक के रूप में उभरे। चयनकर्ताओं ने कथित तौर पर पूर्व कप्तान को बागडोर सौंपने का प्रस्ताव देश के क्रिकेट बोर्ड को भेजा है।

के कप्तानी छोड़ने के बाद क्रिकेट बोर्ड के अधिकारियों ने कहा कि उप-कप्तान हालांकि इस शीर्ष पद के लिए सबसे आगे है लेकिन स्मिथ भी इस दौड़ में बने हुए है।पेन ने एक महिला सहकर्मी को अपनी अश्लील तस्वीर और भद्दे मैसेज भेजने पर खेद जताते हुए शुक्रवार को कप्तानी छोड़ने का फैसला किया। यह मामला 2017 का है।

पेन को 2018 में दक्षिण अफ्रीका में गेंद से छेड़खानी मामले में तत्कालीन कप्तान स्मिथ को प्रतिबंधित किये जाने के बाद आस्ट्रेलियाई टेस्ट टीम का कप्तान बनाया गया था।क्रिकेट आस्ट्रेलिया के अध्यक्ष रिचर्ड फ्रायडेनस्टीन ने शनिवार को ऑनलाइन संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘‘ ऐसे कई उम्मीदवार हैं जो उस भूमिका के लिए उपलब्ध हैं, स्टीव स्मिथ भी उन उम्मीदवारों में से एक हैं ।’’

इस बीच, ऐसी भी अटकलें हैं कि राष्ट्रीय टीम के वरिष्ठ चयनकर्ता स्मिथ को कप्तान नियुक्त करने के पक्ष में हैं।
एसईएन डॉट कॉम डॉट एयू ने हेराल्ड सन के हवाले से प्रकाशित रिपोर्ट में बताया, ‘‘यह समझा जाता है कि चयनकर्ता स्मिथ को कप्तान बनाने के पक्ष में है और उन्होंने इसकी मंजूरी के लिए बोर्ड के पास प्रस्ताव भेजा है।’’

उन्होंने कहा, ‘‘ इस मामले में हालांकि कमिंस का पलड़ा भारी है और स्मिथ को टीम का उप-कप्तान बनाया जा सकता है।’’अगर कमिंस कप्तान बनते है तो 1956 में रे लिंडवाल के बाद टीम का नेतृत्व करने वाले पहले तेज गेंदबाज होंगे। लिंडवाल ने एक मैच में टीम का नेतृत्व किया था।

यह काफी चौंकाने वाला है कि पैट कमिंस ऑस्ट्रेलियाई टेस्ट कप्तान की दौड़ में सबसे आगे हैं। अमूमन एक गेंदबाज को कोई भी बोर्ड कप्तान नियुक्त करने में हिचकिचाता है। लेकिन अभी प्राप्त मीडिया रिपोर्ट के आधार पर हो सकता है कि इंग्लैंड के खिलाफ पैट कमिंस ऑस्ट्रेलिया की कप्तानी करें।

पैट कमिंस ने टेस्ट मैचों में गजब का प्रदर्शन किया है। उन्होंने 34 टेस्ट मैचों में 21 की औसत से अब तक 164 विकेट चटकाए हैं। यही कारण है कि वह टेस्ट क्रिकेट के नंबर 1 रैंक के गेंदबाज है।

वहीं सैंड पेपर गेट के बाद स्टीव स्मिथ की छवि खराब हुई और ऑस्ट्रेलियाई टीम को एक बदलाव के दौर से गुजरना पड़ा। टिम पेन की कप्तानी छोड़ने के बाद अब उन पर भी क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया का ध्यान है।

उनको कप्तान बनाने से यह फायदा है कि स्टीव स्मिथ पहले भी ऑस्ट्रेलिया की कप्तानी कर चुके हैं। उनके पास अनुभव तो है ही साथ ही वह टेस्ट क्रिकेट के तीसरे सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज हैं अगर मौजूदा रैंकिंग को देखा जाए तो। स्टीव स्मिथ टेस्ट बल्लेबाजी की रैंकिंग पर नंबर 3 के बल्लेबाज हैं।

इसके अलावा 77 टेस्ट मैचों में स्टीव स्मिथ अब तक 61 की औसत से 7540 रन बना चुके हैं। इसमें 27 शतक और 31 अर्धशतक शामिल हैं।



और भी पढ़ें :