संन्यास लेने के बाद इस लंकाई ओपनर ने जड़ दिए 47 गेंदों पर 99 रन, लगाए 11 चौके, 6 छक्के

Last Updated: गुरुवार, 11 मार्च 2021 (16:57 IST)
रायपुर:हाल ही में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट को अलविदा कहने वाल उपल थरंगा ने कल यह साबित कर दिया कि श्रीलंकाई चयनकर्ताओं ने उन्हें नजरअंदाज करके अपना नुकसान किया है। गौरतलब है कि 23 फरवरी को ही श्रीलंका के बाएं हाथ के सलामी बल्लेबाज ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास ले लिया था। लेकिन अपनी बल्लेबाजी के दम खम पर उन्होनें श्रीलंकाई लीजेंड्स को जीत दिलाई पर शतक से 1 रन से चूक गए।
उपल थरंगा

(99 रन) के अलावा कप्तान तिलकरत्ने दिलशान (33 रन, 3 विकेट, 2 कैच) के शानदार प्रदर्शन के दम पर ने बुधवार को यहां शहीद वीर नारायण सिंह इंटरनेशनल स्टेडियम में को 42 रनों से हराकर की अंक तालिका में पहला स्थान हासिल कर लिया है।
पांच मैचों में श्रीलंका की यह चौथी जीत है। उसके खाते में 15 अंक हो गए है और वह 12 अंकों के साथ अब तक शीर्ष पर विराजमान इंडिया लेजेंड्स को पीछे छोड़ चुका है। बंगलादेश लेजेंड्स की यह लगातार तीसरी हार है।
श्रीलंका लेजेंड्स ने बंगलादेश के सामने 181 रनों की मुश्किल चुनौती रखी थी, जिसका पीछा करते हुए बंगलादेश की टीम 20 ओवर में 6 विकेट पर 138 रन ही बना सकी। उसकी ओर से मोहम्मद नजीमुद्दीन ने 41 गेंदों पर पांच चौकों और एक छक्के की मदद से सबसे अधिक 54 रन बनाए। खालिद मसूद 22 गेंदों पर एक चौके और एक छक्के की मदद से 28 रन बनाकर नाबाद लौटे।
इससे पहले, श्रीलंका ने टास जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए 6 विकेट पर 180 रन बनाए। इसमें उपल थरंगा
के शानदार 99 रन शामिल हैं। तरंगा ने 47 गेंदों का सामना कर 11 चौके औऱ 5 छक्के लगाए।श्रीलंका की शुरुआत अच्छी रही। 37 के कुल योग पर कप्तान तिलकरत्ने दिलशान (33 रन, 23 गेंद, 6 चौके) आउट हुए। इसके बाद उनके साथी सनथ जयसूर्या (रिटायर्ड हर्ट, 4 रन) जांघ की मांसपेशियों में खिंचाव के कारण आगे नहीं खेल सके।
दिलशान की जगह लेने आए तरंगा तथा चामरा सिल्वा (24 रन, 24 गेंद, 2 चौके) ने सम्भलकर खेलते हुए स्कोर को 100 के करीब पहुंचाया।श्रीलंकाई टीम 100 के आंकड़े को छू पाती उससे पहले ही चमारा मोहम्मद रफीक की गेंद पर पदबाधा आउट हो गए। यह विकेट 96 के कुल योग पर गिरा।

एक छोर पर तरंगा डटे हुए थे। उन्हें दूसरे छोर पर फरवेज माहरूफ 12 रन, 13 गेंद, 1 चौका) से अच्छा साथ मिला। माहरूफ 129 के कुल योग पर आउट हुए।तरंगा ने अर्धशतक पूरा करने के बाद ताबड़तोड़ बल्लेबाजी की और एक के बाद एक कई छक्के लगाते हुए शतक के करीब पहुंचते दिख रहे थे। ओवर हालांकि खत्म हो चले थे।
तरंगा ने मुशफिकुर रहमान द्वारा फेंके गए पारी के अंतिम ओवर में दो छक्के और एक चौका लगाया। पारी की अंतिम गेंद पर थरंगा को शतक पूरा करने के लिए दो रन चाहिए थे लेकिन एक रन पूरा करने के बाद दूसरा रन लेते वक्त उनके साथी नुलान कुलासेकरा (1) रन आउट हो गए।
बंगलादेश की ओर से कप्तान मोहम्मद रफीक, राजिन सालेह और मोहम्मद शरीफ ने एक-एक विकेट लिए।
जवाब में खेलने उतरी बंगलादेश के लिए नदीमुद्दीन और मेहराब हुसैन (27 रन, 26 गेंद, 3 चौके, 1 छक्का) ने अच्छी शुरुआत की। दोनों ने पहले विकेट के लिए 7.2 ओवर में 57 रन जोड़े।मेहराब का विकेट गिरने के बाद श्रीलंकाई टीम ने रन गति पर लगाम लगा दिया । बंगलादेश टीम 10 ओवर में 70 रनों तक भी नहीं पहुंच सकी। 85 रन तक जाते-जाते बंगलादेश ने चार विकेट गंवा दिए। इनमें से तीन दिलशान ने लिए। इसके बाद बढ़ते नेट रन रेट के दबाव में बंगलादेश खुलकर नहीं खेल सकी और लगातार तीसरी हार को मजबूर हुई।(वार्ता)



और भी पढ़ें :