महेंद्र सिंह धोनी को हमारा पूरा समर्थन : संदीप पाटिल

बेंगलुरु| पुनः संशोधित सोमवार, 21 सितम्बर 2015 (22:21 IST)
हमें फॉलो करें
बेंगलुरु। राष्ट्रीय चयनकर्ता प्रमुख ने कहा है कि एकदिवसीय टीम के महेंद्र सिंह धोनी को चयनकर्ताओं का पूरा समर्थन हासिल है।
पाटिल ने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 2 अक्टूबर से शुरू होने वाली ट्वंटी 20 सीरीज और वनडे सीरीज के पहले तीन मैचों के लिए धोनी को कप्तान पद पर बरकरार रखने के बाद कहा कि हमने एकदिवसीय कप्तानी के संबंध में कोई विचार नहीं किया था। धोनी जिस तरह टीम का नेतृत्व कर रहे हैं, उससे हम संतुष्ट हैं। इस सीरीज में धोनी को हमारा पूरा समर्थन हासिल रहेगा।
 
दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ सीरीज के लिए भारतीय वनडे और ट्वंटी 20 टीमें चुने जाने से पहले मीडिया में यह खबरें आ रही थी कि धोनी को एकदिवसीय कप्तानी से हटाया जा सकता है और टेस्ट कप्तान विराट कोहली को सीमित प्रारूप का कप्तान भी बनाया जा सकता है लेकिन चयनकर्ताओं ने धोनी पर अपना भरोसा कायम रखा, जिन्होंने इस साल के शुरू में भारत को ऑस्ट्रेलिया-न्यूजीलैंड में हुए विश्वकप में सेमीफाइनल तक पहुंचाया।
 
धोनी ने इस साल ऑस्ट्रेलिया दौरे के दौरान टेस्ट क्रिकेट से संन्यास ले लिया था लेकिन छोटे फार्मेट में अब भी वह दुनिया के सर्वश्रेष्ठ कप्तान और सर्वश्रेष्ठ फिनिशर माने जाते हैं। 
 
हाल में लंदन में एक चैरिटी मैच में उन्होंने मैच विजयी प्रदर्शन कर इस बात को साबित किया था। ट्वंटी 20 विश्वकप के पांच महीने दूर रहते चयनकर्ताओं के लिए छोटे प्रारूप में कप्तान बदलना एक जोखिम भरा फैसला हो सकता था, यही सोचते हुए चयनकर्ताओं ने धोनी पर अपना भरोसा कायम रखा है।
 
श्रीलंका में शानदार प्रदर्शन करने वाले तेज गेंदबाज ईशांत शर्मा को न चुने जाने पर पाटिल ने कहा कि हमने यह टीम विकेटों को देखते हुए चुनी है। हमने अपने तेज गेंदबाजों पर भरोसा नहीं खोया है। ट्वंटी 20 विश्वकप के लिए अभी काफी समय है। हमने इशांत पर विचार किया था। ऐसा नहीं है कि हमने इशांत को सिर्फ टेस्ट के लिए छोड़ रखा है।
 
वनडे टीम में शामिल किए गए स्पिनर ऑलराउंडर गुरकीरत सिंह मान के लिए पाटिल ने कहा कि गुरकीरत को उनकी ऑलराउंड क्षमताओं को देखते हुए चुना गया है। इस खेल की जरूरत ऐसी है कि हमें ज्यादा ऑलराउंडरों की जरूरत है। गुरकीरत को टीम में लेफ्ट आर्म स्पिनर रवींद्र जडेजा की जगह मिली है। हालांकि पाटिल का कहना था कि हम अभी जडेजा को भूले नहीं हैं।
 
गुरकीरत ने हाल ही में भारत 'ए' के लिए काफी शानदार प्रदर्शन किया था। 25 वर्षीय गुरकीरत ने अगस्त में ऑस्ट्रेलिया 'ए' के खिलाफ त्रिकोणीय सीरीज की खिताबी जीत में 42 रन पर दो विकेट के अलावा नाबाद 87 रन भी बनाए थे। उन्होंने हाल ही में बेंगलुरु में अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ियों से सुसज्जित बंगलादेश 'ए' टीम के खिलाफ 65 रन बनाने के अलावा 29 रन पर पांच विकेट भी लिए थे। (वार्ता)



और भी पढ़ें :