कप्तान कौन : धोनी या विराट!

Dhoni_Virat
नई दिल्ली| पुनः संशोधित शनिवार, 19 सितम्बर 2015 (21:21 IST)
हमें फॉलो करें
नई दिल्ली। भारतीय क्रिकेट में पिछले कुछ समय से यह बहस जोरों से चल रही है कि महेन्द्र सिंह धोनी से सीमित प्रारूप की क्रिकेट में कप्तानी छिन सकती है और कई दिग्गजों ने टेस्ट कप्तान विराट कोहली को तीनों फार्मेट में कप्तान बनाए जाने की वकालत की है। 
राष्ट्रीय चयनकर्ता प्रमुख संदीप पाटिल की अगुवाई में जब रविवार को सीनियर चयन समिति दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ दो अक्टूबर से शुरू होने वाली टी-20 और वनडे सीरीज के लिए टीम इंडिया का चयन करेगी तो सभी निगाहें इस बात पर टिकी रहेंगी कि धोनी की कप्तानी को कोई खतरा तो नहीं है।
 
इस समय भारत-ए टीम बेंगलुरु में बंगलादेश-ए के खिलाफ तीन मैचों की सीरीज खेल रही है जिसमें पहले दो मैचों के बाद दोनों टीमें 1-1 की बराबरी पर हैं। निर्णायक मुकाबला रविवार को खेला जाना है। इस सीरीज में खिलाड़ियों का प्रदर्शन भी चयन में गौर किया जाएगा।
 
धोनी ने इस साल के शुरू में ऑस्ट्रेलिया दौरे के दौरान टेस्ट कप्तानी छोड़ दी थी और टेस्ट क्रिकेट से संन्यास भी ले लिया था लेकिन उन्होंने साथ ही कहा था कि वह सीमित प्रारूप में खेलना जारी रखेंगे। 
 
धोनी की नज़रें अगले साल भारत में होने वाले टी-20 विश्वकप पर लगी हुई हैं। धोनी ने लंदन में हाल में एक चैरिटी मैच में मैच विजयी विस्फोटक पारी खेलकर यह संकेत दे दिया था कि वे दक्षिण अफ्रीका की चुनौती के लिए तैयार हैं।
 
यह माना जा रहा है कि चयनकर्ता तीन टी-20 मैचों की सीरीज और तीन वनडे के लिए टीम चुनेंगे। टी-20 विश्वकप में ज्यादा समय नहीं बचा है और चयनकर्ता इस टूर्नामेंट के मद्देनजर ही टीम का चयन करेंगे। टी-20 विश्व कप पांच महीने बाद भारत में होना है।
 
भारत ने सीमित ओवरों की पिछली सीरीज जिम्बाब्वे के खिलाफ खेली थी जिसमें कई शीर्ष खिलाड़ियों को विश्राम दिया गया था। धोनी के अलावा विराट कोहली, सुरेश रैना, रोहित शर्मा, रविचंद्रन अश्विन की टीम में वापसी तय है और कुछ युवा खिलाड़ियों को इन सीनियर खिलाड़ियों के लिए जगह खाली करनी पड़ेगी।
 
ओपनर शिखर धवन फिटनेस टेस्ट पास करने के बाद ही टीम में जगह बना पाएंगे। शिखर श्रीलंका के खिलाफ पहले टेस्ट के बाद चोट के कारण सीरीज से बाहर हो गए थे। चयनकर्ताओं ने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ सीरीज के लिए तीस संभावित घोषित किए थे जिनमें से टीम का चयन होना है।
 
अजिंक्य रहाणे, अंबाती रायुडू, केदार जाधव, मनीष पांडे, गुरकीरत सिंह मान जैसे खिलाड़ियों पर चयनकर्ताओं की नज़रे रहेंगी। यह देखना दिलचस्प होगा कि लेफ्ट आर्म स्पिनर रवींद्र जडेजा पर चयनकर्ताओं का क्या रुख रहता है। गेंदबाजों में मोहित शर्मा, भुवनेश्वर कुमार, धवल कुलकर्णी, वरुण आरोन और उमेश यादव भी दावेदारी में रहेंगे। (वार्ता)



और भी पढ़ें :