IPL 2022 जीतने वाले हार्दिक को उपकप्तानी और पंत को कप्तानी! बहुत नाइंसाफी है

Last Updated: गुरुवार, 9 जून 2022 (16:20 IST)
हमें फॉलो करें
भारतीय कप्तान लोकेश राहुल दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टी20 अंतरराष्ट्रीय श्रृंखला की शुरुआत से एक दिन पहले बुधवार को ग्रोइन की चोट के कारण पूरी श्रृंखला से बाहर हो गए।

श्रृंखला के लिए भारत के उप कप्तान बनाए गए अब राहुल की गैरमौजूदगी में टीम की कमान संभालेंगे। ऑलराउंडर हार्दिक पंड्या को उप कप्तान बनाया गया है।

हालांकि इस निर्णय की खासी आलोचना हो रही है क्योंकि हार्दिक पांड्या अभी अभी अपनी कप्तानी और हरफनमौला प्रदर्शन के दम पर अपनी फ्रैंचाइजी को आईपीएल ट्रॉफी जितवा चुके हैं।

वहीं ऋषभ पंत अपनी अगुवाई में को प्लेऑफ तक नहीं ले जा पाए थे। दिल्ली कैपिटल्स को प्लेऑफ में जाने के लिए अंतिम लीग मैच में मुुंबई इंडियन्स को हराना जरूरी था लेकिन यह मैच दिल्ली हार गई और बैंगलोर को प्लेऑफ में जाने का मौका मिला।

इसके अलावा ऋषभ पंत के कप्तानी की कई मौकों पर आलोचना भी हुई। अंतिम लीग मैच में ही उन्होंने टिम डेविड के एक निर्णय को रिव्यू नहीं किया था। नहीं तो यह मैच दिल्ली के कब्जे में हो सकता था। ऐसे ही अंतिम ओवरों में पंत किस गेंदबाज की ओर गेंद फेंकनी चाहिए यह निर्णय भी वह नहीं ले पाते हैं।



अनुभव के कारण बाजी मार ले गए पंत

इसका मुख्य कारण बस यह ही समझ में आता है कि ऋषभ पंत हार्दिक पांड्या से ज्यादा अनुभवी हैं। ऋषभ पंत ने साल 2020 में ही दिल्ली कैपिटल्स की कप्तानी संभाली थी, क्योंकि वह इस सत्र अपनी टीम को फाइनल में ले गए थे तो साल 2021 में श्रेयस अय्यर के फिट होने के बाद भी कप्तानी उनके पास ही रही थी। साल 2022 उनकी कप्तानी का तीसरा सत्र था। इस अनुभव के कारण ही पंत को हार्दिक के ऊपर तरजीह दी गई।

पिछले साल टी20 विश्व कप में ग्रुप चरण से भारत के बाहर होने के बाद टीम से बाहर किये गए पंड्या ने आईपीएल से वापसी की। उन्होंने बल्ले और गेंद दोनों से शानदार प्रदर्शन किया।

द्रविड़ ने कहा ,‘‘ उसकी वापसी अच्छी है। हार्दिक फॉर्म में होने पर बल्ले और गेंद दोनों से शानदार खिलाड़ी है । वह सीमित ओवरों के क्रिकेट में काफी सफल रहा है और आईपीएल में भी जबर्दस्त फॉर्म में था।’’उन्होंने हार्दिक की कप्तानी की भी तारीफ करते हुए कहा कि वे भारत के लिये उसकी पूरी क्षमता का इस्तेमाल करने पर काम कर रहे हैं।उन्होंने कहा ,‘‘ उसकी कप्तानी काफी प्रभावी थी और उसने अच्छा प्रदर्शन भी किया। नेतृत्व टीम का हिस्सा होने के लिये कप्तान होना जरूरी नहीं है।’’उन्होंने कहा ,‘‘ इस समय हमारे लिये सकारात्मक बात यह है कि वह फिर से गेंदबाजी कर रहा है। हम एक क्रिकेटर के तौर पर उसका सर्वश्रेष्ठ योगदान चाहते हैं।’

कप्तानी की प्रतियोगिता से विकसित होतें है खिलाड़ी

भारतीय क्रिकेट टीम के मुख्य कोच राहुल द्रविड़ ने मंगलवार को कहा कि आईपीएल में कप्तान के तौर पर भारतीय खिलाड़ियों की कामयाबी से राष्ट्रीय टीम का फायदा होगा क्योंकि नेतृत्व क्षमता से क्रिकेटरों का विकास तेजी से होता है।

हार्दिक पंड्या की कप्तानी में गुजरात टाइटंस ने अपने पहले ही सत्र में आईपीएल खिताब जीता। वहीं केएल राहुल, श्रेयस अय्यर और संजू सैमसन भी बतौर कप्तान अच्छा प्रदर्शन करने में कामयाब रहे ।राहुल की कप्तानी में आईपीएल में पदार्पण कर रही लखनऊ सुपर जाइंट्स प्लेआफ तक पहुंची जबकि सैमसन की कप्तानी वाली राजस्थान रॉयल्स उपविजेता रही।
द्रविड़ ने प्रेस कांफ्रेंस में कहा ,‘‘ यह अच्छी बात है कि कई भारतीय कप्तानों ने अच्छा प्रदर्शन किया है। हार्दिक उनमें से एक था। शानदार। केएल और संजू ने भी अच्छा प्रदर्शन किया और श्रेयस ने भी।’’उन्होंने कहा ,‘‘युवा बल्लेबाजों को टीम की कप्तानी करते देख अच्छा लगा। इससे बतौर क्रिकेटर उन्हें परिपक्व होने में मदद मिलेगी। हमारे लिये यह अच्छा है कि भारत के युवा खिलाड़ी आईपीएल में अच्छी कप्तानी कर रहे हैं।’’

भारतीय टीम बृहस्पतिवार को दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ पांच मैचों की टी20 श्रृंखला का पहला मैच खेलेगी।चयन समिति ने राहुल और कुलदीप की जगह किसी वैकल्पिक खिलाड़ी के नाम की घोषणा नहीं की है। ये दोनों क्रिकेटर अब राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी जाएंगे जहां मेडिकल टीम उनका आकलन करेगी और भविष्य के उपचार पर फैसला करेगी।

माना जा रहा है कि गुरुवार को श्रृंखला के पहले मैच में इशान किशन के साथ रुतुराज गायकवाड़ को पारी का आगाज करने का मौका मिल सकता है।



और भी पढ़ें :