आखिरकार हार्दिक पांड्या से पीछा छुड़ाया मुंबई इंडियन्स ने, सूर्यकुमार ने ईशान से मारी बाजी

Last Updated: बुधवार, 1 दिसंबर 2021 (16:51 IST)
हमें फॉलो करें
हार्दिक पांड्या कई समय से गेंदबाजी नहीं कर पा रहे हैं।इस आईपीएल में भी उनसे गेंदबाजी नहीं करवाई गई थी। बतौर ऑलराउंडर उनका प्रदर्शन भी खासा अच्छा नहीं रहा। उन्होंने 12 मैचों में 14 की औसत से 127 रन बनाए।

यही कारण रहा कि आखिरकार फ्रैंचाइजी ने उनको अगले सीजन के लिए रीलीज कर दिया।

मुंबई इंडियन्स ने आईपीएल 2021 में अपनी टीम के दो सर्वाधिक रन बनाने वालों को ही चुना। कप्तान रोहित शर्मा को संयुक्त रूप से सर्वाधिक 16 करोड़ वहीं सूर्यकुमार यादव को 8 करोड़ में रिटेन किया गया।

रोहित शर्मा ने आईपीएल 2021 में 29 की औसत से 381 रन बनाए। हालांकि वह सिर्फ एक ही अर्धशतक जड़ पाए। वहीं सूर्यकुमार यादव ने 22 की औसत से 317 रन बनाए। इस टूर्नामेंट में उन्होंने 2 अर्धशतक जड़े। हालांकि 10 मैचों में

26 की औसत से रन बनाने वाले ईशान किशन को रिटेन नहीं किया गया और उन्हें रीलीज कर दिया गया।

इसके अलावा कीरन पोलार्ड को भी फ्रैंचाइजी ने 6 करोड़ रुपए देकर रिटेन किया। कीरन पोलार्ड ने बल्ले से 30 की औसत से 245 रन बनाए, वहीं गेंदबाजी में उन्होंने सिर्फ 5 विकेट लिए।

मुंबई इंडियन्स का चौथा रिटेंशन उनके गेंदबाज जसप्रीत बुमराह रहे जिनको फ्रैंचाइजी ने 12 करोड़ में रिटेन किया। आईपीएल 2021 में बुमराह ने 14 मैचों में 21 विकेट निकाले थे।

हार्दिक की गेंदबाजी ना करने से परेशान थी मुंबई इंडियन्स

मुंबई इंडियंस के मुख्य कोच माहेला जयवर्धने ने कहा था कि हार्दिक की फ़िटनेस और गेंदबाज़ी की तैयारी को लेकर फ़्रेंचाइज़ी भारतीय टीम प्रबंधन के संपर्क में थी। उन्होंने कहा कि हार्दिक की फ़िटनेस का दैनिक आधार पर "मूल्यांकन" किया जा रहा था, लेकिन जब तक ये ऑलराउंडर पूरी तरह से तैयार नहीं हो जाता, तब तक मुंबई उन्हें गेंदबाज़ी करने के लिए नहीं कहने वाली थी।

मुंबई इंडियंस के मुख्य कोच माहेला जयवर्धने का मानना था कि आलराउंडर हार्दिक पांड्या को आईपीएल 2021 में गेंदबाज़ी करने के लिए "बहुत ज़्यादा" दबाव डालना उनकी बल्लेबाज़ी पर नकारात्मक प्रभाव डाल सकता था।

हार्दिक पांड्या के साथ ही उनके भाई क्रुणाल पांड्या को भी मुंबई इंडियन्स ने रीलीज कर दिया। ऑलराउंडर की हैसियत से खेल रहे क्रुणाल पांड्या गेंदबाजी में 13 मैचों में सिर्फ 5 विकेट निकाल पाए। इसके अलावा बल्लेबाजी में भी उनका प्रदर्शन खास नहीं रहा। सिर्फ 14 की औसत से वह सिर्फ 143 रन बना पाए।



और भी पढ़ें :