T-20 वर्ल्ड कप में भारतीयों की उम्मीदें बढ़ीं, MS Dhoni के 'प्रदर्शन' पर रहेगी निगाहें

पुनः संशोधित शुक्रवार, 22 अक्टूबर 2021 (20:20 IST)
भारत को 2007 पहला टी-20 वर्ल्ड कप जिताने वाले और 'कैप्टन कूल' के नाम से मशहूर रहे महेन्द्र सिंह धोनी (MS Dhoni) से एक बार फिर लोगों की उम्मीदें बढ़ गई हैं। दरअसल, इस बार टी-20 विश्वकप में धोनी टीम इंडिया के मेंटर की भूमिका में दिखाई देंगे।


लोगों की उम्मीदें इसलिए भी बढ़ गई हैं कि रवि शास्त्री, विराट कोहली के साथ महेन्द्रसिंह धोनी के भी जुड़ जाने से यह 'तिकड़ी' करिश्मा कर सकती है और एक बार फिर से भारत की झोली में टी-20 वर्ल्ड कप डाल सकती है। जानकारों का मानना है कि धोनी मौजूदगी टीम पर जरूर जादू करेगी।

वर्ष 2007 में दक्षिण अफ्रीका में हुए टी-20 वर्ल्ड कप में बतौर कप्तान जिम्मेदारी संभालते हुए उन्होंने पहला टी-20 वर्ल्ड कप भारत को दिलाया था। हालांकि टीम इंडिया ने इस महामुकाबले के लिए अपनी जीत का आगाज कर दिया है। अपने पहले वॉर्म-अप मुकाबले में इंग्लैंड को 7 विकेट से हरा दिया था।
इंग्लैंड ने पहले बल्लेबाजी करते हुए निर्धारित 20 ओवरों में 188/5 का स्कोर बनाया, जिसके जवाब में भारत ने 19 ओवर में ही 3 विकेट खोकर जीत हासिल कर ली। ईशान किशन (70) और केएल राहुल (51) रनों की शानदार पारियां खेलीं।




और भी पढ़ें :