रूट की तरह स्टोक्स के भी पसंदीदा है ब्रॉड और एंडरसन, दिया टेस्ट टीम में वापसी का इशारा

Last Updated: शुक्रवार, 29 अप्रैल 2022 (15:28 IST)
हमें फॉलो करें
एंडरसन और ब्रॉड की टेस्ट टीम में वापसी होगी: रॉब की
लंदन: इंग्लैंड के प्रबंध निदेशक रॉब की ने कहा है कि नए टेस्ट कप्तान स्टोक्स भी दोनों गेंदबाज़ों जेम्स एंडरसन और स्टुअर्ट ब्रॉड के चयन के हित में हैं।इंग्लैंड पुरुष क्रिकेट टीम के नए निदेशक रॉब की ने कहा है कि 2 जून से लॉर्ड्स में न्यूज़ीलैंड के ख़िलाफ़ पहले टेस्ट के लिए जेम्स एंडरसन और स्टुअर्ट ब्रॉड की जोड़ी "चयन के लिए उपलब्ध" हैं। इससे पहले वेस्टइंडीज़ के दौरे के लिए दोनों अनुभवी तेज़ गेंदबाज़ों को विवादित तरीक़े से दल से बाहर रखा गया था।> > एंडरसन और ब्रॉड जिनकी उम्र 39 और 35 साल है, टेस्ट क्रिकेट में कुल मिलाकर 1177 विकेट ले चुके हैं लेकिन एशेज में 4-0 से परास्त होने के बाद उनके भविष्य पर प्रश्नचिंह लगे हुए हैं। वेस्टइंडीज़ में 1-0 से सीरीज़ हारने के बावजूद पूर्व कप्तान ने युवा टीम में "सकारात्मक" वातावरण की बात की थी और इसके चलते ऐसा लग रहा था कि 'ब्रॉडरसन' नाम से मशहूर जोड़ी को इंग्लैंड की टेस्ट टीम में साथ देखना और मुश्किल हो सकता था।
रॉब लॉर्ड्स में निदेशक का पदभार संभालने के बाद पहली बार पत्रकारों को संबोधित कर रहे थे और उन्होंने कहा कि एंडरसन और ब्रॉड के भविष्य पर उन्होंने रूट के उत्तराधिकारी से बात की थी और दोनों ने माना कि अगर दोनों गेंदबाज़ फ़िट हों तो वह टीम में लौटने के लिए प्रबल दावेदार होंगे। रॉब ने बीबीसी को बताया, "मेरी औपचारिक नियुक्ति से पहले मैंने जिमी और ब्रॉडी दोनों को फ़ोन किया और बताया कि मेरे हिसाब से इस सीज़न के पहले टेस्ट के लिए दोनों उपलब्ध होंगे। हालांकि मैं सिर्फ़ प्रबंध निदेशक हूं और यह ज़रूरी था कि इस बात पर नए कप्तान भी सहमत हों। बेन ने ख़ुद कहा कि जिमी और ब्रॉडी वापस लौटने चाहिए और मैं भी यही मानता हूं। अगर हम दोनों इस बात पर सहमत नहीं होते तो यह अलग बात थी लेकिन ऐसा नहीं हुआ।"
Ben Stokes

ब्रॉड इस हफ़्ते पहली बार काउंटी चैंपियनशिप में खेलते दिखे और उन्होंने नॉटिंघमशायर के लिए खेलते हुए वूस्टरशायर के विरुद्ध अपने तीसरे ही ओवर में विकेट लिया। वहीं एंडरसन लंकाशायर के लिए पिछले हफ़्ते ग्लॉस्टरशायर के ख़िलाफ़ पारी से जीत में अपनी लय प्राप्त करने के बाद इस हफ़्ते हैंपशायर के विरुद्ध दो विकेट झटकने में सफल रहे। रॉब ने कहा, "हमें जिमी और ब्रॉडी जैसे अनुभवी खिलाड़ियों को कुछ समझाने की कोई ज़रूरत नहीं। अगर उन्हें नहीं पता है कैसे एक बड़े सीज़न के लिए तैयारी की जाए तो शायद किसी को भी ना हो। पहले टेस्ट में चयन की चर्चाओं में उनका होना स्वाभाविक है।"

एशेज के दौरान सिडनी में पांच विकेट लेने के बाद ब्रॉड ने पिछले टीम प्रबंधन के साथ नाराज़गी जताई थी क्योंकि कार्यभार संभालने के चक्कर में अक्सर वह मौजूदा परिस्थितियों पर ध्यान केंद्रित करना छोड़ देते थे। ऐसे में ब्रॉड को कई बार ड्रॉप किया गया और 2020 में भी टीम से बाहर रखे जाने पर स्काई स्पोर्ट्स से बात करते हुए उन्होंने इस नीति पर आपत्ति जताई थी। रॉब ने कहा कि हालांकि वह इस वरिष्ठ जोड़ी के "भविष्य पर टिप्पणी" नहीं कर सकते, कोविड के प्रकोप के कम होते हुए उन्हें नहीं लगता कि इंग्लैंड प्रबंधन कार्यभार संभालने के लिए खिलाड़ियों को विश्राम देना और उनको रोटेट करने की प्रथा जारी रखेगा।

उन्होंने कहा, "हमें देखना होगा वह कैसी गेंदबाज़ी करते हैं। मान लीजिए दोनों पहला टेस्ट खेलते हैं और अच्छा करते हैं तो शायद हम उन्हें दूसरे टेस्ट में भी खिलाएं। अगर उनमें से किसी को थकान महसूस हो तो हम किसी और को मौक़ा दे सकते हैं। हमें इस बारे में ज़्यादा नहीं सोचना और प्लान को लचीला रखना होगा। फ़िलहाल दोनों ही हर प्रारूप में नहीं खेलते। जोफ़्रा आर्चर जैसे किसी प्लेयर के लिए अलग बात होगी। जब वह फिर से फ़िट होकर लौटेंगे तो ऐसा हो सकता है हम किसी सफ़ेद गेंद सीरीज़ में उन्हें विश्राम दें। हालांकि ऐसा करने से किसी नए खिलाड़ी को भी मौक़ा मिलेगा। इस बारे में बहुत ज़्यादा चिंता करने की कोई आवश्यकता नहीं है।"

न्यूज़ीलैंड के विरुद्ध पहले टेस्ट से पहले एक महीने से कुछ दिन ज़्यादा का समय बचा है लेकिन रॉब ने विश्वास जताया है कि उस सीरीज़ से पहले ही मुख्य कोच की नियुक्ति हो जाएगी। साइमन कैटिच की दावेदारी सबसे प्रबल समझी जा रही है। हालांकि ग्राहम फ़ोर्ड और गैरी कर्स्टन के नाम भी चर्चा में हैं। रॉब ने बताया, "इंग्लिश क्रिकेट और विश्व क्रिकेट के कुछ प्रमुख चेहरे सामने आ रहे हैं और मैं सबके बारे में पूछताछ कर रहा हूं। आप ज़रूर बातचीत से काफ़ी कुछ समझ सकते हैं लेकिन किसी के साथ अगर आपने काम किया है तो आप उनकी शैली को बेहतर जानेंगे।"
england test team

टीम चयन के बारे में रॉब ने कहा कि वह इस प्रक्रिया पर फ़िलहाल स्पष्ट नहीं हैं। एड स्मिथ के बाद कोई राष्ट्रीय चयनकर्ता नहीं रहा है और उन्होंने माना कि वह अभी तक ऐसे किसी को खोज रहे हैं जो स्काउट, विश्लेषकों और विभाजित कोचों (एक टेस्ट टीम के लिए और दूसरा सफ़ेद गेंद टीमों के लिए) के पूरे नेटवर्क को संभालेंगे। उन्होंने कहा, "यह एक बहुकीमती पद होगा और मैं चाहता हूं इस नियुक्ति में कोई जल्दबाज़ी नहीं हो। तब तक मैं मौजूदा चयन प्रक्रिया को रहने देना चाहता हूं। तब तक अगर आप किसी भूल की ज़िम्मेदारी की बात करेंगे तो वह मैं लेने के लिए तैयार हूं। मुझे विश्वास है पहला टेस्ट जीतने के लिए हम एक सक्षम टीम का चयन करेंगे।”(वार्ता)



और भी पढ़ें :