2021 में 78 प्रतिशत भारतीय कंपनियां बनी रैन्समवेयर का शिकार, डेटा रिकवरी के लिए करोड़ों खर्च

पुनः संशोधित गुरुवार, 5 मई 2022 (07:55 IST)
हमें फॉलो करें
नई दिल्ली। वर्ष में करीब 78 प्रतिशत भारतीय कंपनियां का शिकार बनीं और इसमें से कुछ ने अपने डेटा को वापस पाने के लिए 76 करोड़ रुपए से अधिक की राशि खर्च की।

साइबर सुरक्षा कंपनी सोफोस की रिपोर्ट के अनुसार रैन्समवेयर का शिकार बनने के बाद अपने डेटा को वापस पाने के लिए औसतन भारतीय कंपनियों ने 9 करोड़ रुपए का भुगतान किया जबकि दस 10 प्रतिशत कंपनियों को दस लाख डॉलर या उससे अधिक पैसे खर्च करने पड़े।

कंपनी ने अपने सर्वेक्षण में पाया कि रैन्समवेयर की चपेट में आने वाली 48 प्रतिशत भारतीय कंपनियों ने पांच हजार डॉलर का भुगतान किया।
वहीं सर्वेक्षण में तीन कंपनियों ने स्वीकार किया कि उन्हें अपना डेटा वापस पाने के लिए एक करोड़ डॉलर या उससे से अधिक का खर्च करना पड़ा।



और भी पढ़ें :