सलामी शतकीय साझेदारी के बाद 45 रनों पर 6 विकेट गंवाए RCB ने, ऐसे हुई ट्रोल

Last Updated: शुक्रवार, 24 सितम्बर 2021 (22:37 IST)
चेन्नई के खिलाफ ने धमाकेदार शुरुआत की थी। ऐसा लग रहा था कि आज तो बैगलोर चेन्नई के सामने एक बड़ा स्कोर खड़ा करेगी। लेकिन टीम सिर्फ 156 रन बना पायी। टाॅस जीत कर चेन्नई ने बेंगलुरु को पहले बल्लेबाजी करने बुलाया, हालांकि सलामी बल्लेबाजों विराट कोहली और देवदत्त पडिकल ने चेन्नई की शुरुआती विकेट लेने की योजना पर पानी फेर दिया। दोनों ने जुझारू तरीके से खेलते हुए एक से छह ओवर के पहले पावरप्ले में बिना कोई विकेट गंवाए 55 रन बनाए।

दोनों यही नहीं रुके और पहले विकेट के लिए 111 रन जोड़े। 13.2 ओवर में विराट कोहली के रूप में पहला विकेट गिरने के बाद बेंगलुरु की गति धीमी हो गई और यहीं से चेन्नई ने मैच में वापसी की। एबी डिविलियर्स और ग्लेन मैक्सवेल जैसे विस्फोटक बल्लेबाजों को भी हाथ खोलने का मौका नहीं मिला। विराट ने अपनी पारी में छह चौकों और एक छक्कों की मदद से 41 गेंदों पर 53, पडिकल ने पांच चौकों और तीन छक्कों के सहारे 50 गेंदों पर 70, डिविलियर्स ने 11 गेंदों पर 12 और मैक्सवेल ने नौ गेंदों पर 11 रन बनाए।

देवदत्त के साथ उनकी शतकीय साझेदारी 111 रनों तक चली। 111 पर बिना विकेट खोए मजबूत स्थिती में खड़ी बैंगलोर ने अगले 45 रनों में अपने 6 विकेट गंवा दिए। बैंगलोर का बल्लेबाजी क्रम एक बार फिर ताश के पत्तों की तरह ढहा और उन्हें ट्रोलिंग का सामना करना पड़ा।
विराट और देवदत्त के बाद कोई भी बल्लेबाज टिक कर नहीं खेल सका और एक समय 200 पार पहुंचने वाली आरसीबी 156 तक ही पहुंच पायी। चेन्नई ने अंतिम ओवरों में नपी-तुली और किफायती गेंदबाजी की। आखिरी चार आेवरों में विकेटों की झड़ी लगाते हुए चेन्नई के गेंदबाजों ने लगातार पांच विकेट चटकाए, जिसमें से दो विकेट शार्दुल ठाकुर, दो ड्वेन ब्रावो और एक दीपक चाहर के नाम रहा। विराट का विकेट मिलाकर ब्रावो ने चार ओवरों में 24 रन देकर कुल तीन विकेट लिए।



और भी पढ़ें :