रोती बच्ची को धोनी का गिफ्ट, माही के अंंतिम शॉट पर हो गई थी भावुक (वीडियो)

Last Updated: सोमवार, 11 अक्टूबर 2021 (13:10 IST)
हमें फॉलो करें
महेंद्र सिंह धोनी को अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास लिए हुए कई समय बीत चुका है लेकिन वह अब भी फैंस के दिल में बसते हैं। यह और दिल्ली कैपिटल्स के बीच हुए मैच के दौरान दिख गया।

महेंद्र सिंह धोनी ने जैसे ही विजयी चौका जड़ा चेन्नई सुपर किंग्स की यह लिटल फैन रोने लग गई थी। भावुक होती हुई इस फैन का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया।

महेंद्र सिंह धोनी ने भी इस बच्ची का दिल रखा और अपने हाथ से स्टैंड्स में एक गेंद फेंकी। जैसे ही धोनी ने यह काम किया तो बच्ची और उसका भाई यह बॉल ढूंढने लग गया क्योंकि यह गेंद उस बच्ची के लिए अब तक का सबसे सुनहरा तोहफा था।
माही नहीं थे अपनी पारी से संतुष्ट

धोनी ने मैच के बाद कहा कि मेरी पारी महत्वपूर्ण थी। दिल्ली कैपिटल्स का गेंदबाजी आक्रमण अच्छा है। उन्होंने परिस्थितियों का पूरा फायदा उठाया, इसलिए हम जानते थे कि यह मैच हमारे लिए आसान नहीं रहने वाला था। सलामी बल्लेबाज पृथ्वी शॉ (60 रन) और कप्तान ऋषभ पंत (नाबाद 51 रन) के अर्धशतक की बदौलत दिल्ली कैपिटल्स की टीम ने बल्लेबाजी का न्यौता मिलने के बाद पांच विकेट पर 172 रन का स्कोर बनाया था।

ज्‍यादा सोचने से रणनीति खराब हो जाती

अपनी पारी के बारे में धोनी ने कहा " मैंने टूर्नामेंट में ज्यादा अच्छी पारियां नहीं खेली हैं, लेकिन मैं गेंद को देखकर खेलना चाहता था। मैं नेट पर अच्छी बल्लेबाजी कर रहा था, लेकिन ज्यादा नहीं सोच रहा था क्योंकि अगर आप बल्लेबाजी करते हुए ज्यादा सोचते हो तो अपनी रणनीति खराब कर देते हो।
उन्होंने शार्दुल ठाकुर को बल्लेबाजी क्रम में ऊपर भेजने के फैसले पर कहा कि शार्दुल ठाकुर ने हाल के दिनों में अच्छी बल्लेबाजी की है इसलिए उसे ऊपर भेजा गया। उथप्पा के बारे में धोनी ने कहा कि रॉबिन हमेशा से ऊपर बल्लेबाजी का लुत्फ उठाते हैं। मोईन अली तीसरे नंबर पर शानदार रहे हैं, लेकिन हमने उनके लिये ऐसी परिस्थितियां बना दी हैं कि कोई भी तीसरे नंबर पर जरूरत के हिसाब से बल्लेबाजी कर सकता है।"

धोनी ने ऋतुराज के बारे में कहा कि जब मैं और ऋतुराज बात करते हैं तो यह काफी सरल होती है। मैं जानता चाहता हूं कि वह क्या सोच रहा है। यह देखकर अच्छा लगता है कि उसने काफी सुधार किया है। वह ऐसा खिलाड़ी हैं जो पूरे 20 ओवर तक बल्लेबाजी करना चाहता है। उन्होंने कहा कि पिछले सत्र में पहली बार हम प्लेऑफ के लिये क्वालीफाई नहीं कर पाये थे, लेकिन हमने इस सत्र में शानदार वापसी की।



और भी पढ़ें :