उ‍‍थप्पा का मन डोला, पहनना चाहते हैं ब्ल्यू जर्सी

Last Updated: गुरुवार, 27 अप्रैल 2017 (19:12 IST)
हमें फॉलो करें
पुणे। के लिए आईपीएल-10 में कमाल की पारियां खेल रहे विकेटकीपर बल्लेबाज रॉबिन उथप्पा ने कहा है कि उन्हें अपने खेल पर पूरा भरोसा है और वे भारत का फिर से प्रतिनिधित्व करना चाहते हैं।




पुणे के एमसीए स्टेडियम में पुणे के खिलाफ सात विकेट की जीत में अहम भूमिका निभाने वाले उथप्पा ने 47 गेंदों में ताबड़तोड़ 87 रन बनाने के बाद कहा, मेरे लिए जरूरी है कि मैं निरंतर अच्छा खेल सकूं। मेरा सपना अब भारत के लिए टेस्ट क्रिकेट खेलना है। मैं सपने देख रहा हूं लेकिन इसके आगे और कुछ नहीं सोच सकता हूं। हमें वर्तमान में जीना होता है और अपनी ओर से बेहतर करना चाहिए।




उन्होंने कहा, मेरा मानना है कि किसी की मेहनत कभी भी नज़रअंदाज नहीं की जा सकती है। मुझे पूरा यकीन है कि मेरी बारी भी जरूर आएगी। उथप्पा भारतीय टीम से पिछले काफी समय से बाहर हैं। कर्नाटक के लिए खेलने वाले उथप्पा ने अपना आखिरी वनडे जुलाई 2015 में हरारे में जिम्बाब्वे के खिलाफ और आखिरी टी-20 भी हरारे में ही जिम्बाब्वे के खिलाफ उसी समय खेला था। उन्होंने 46 वनडे और 13 टी-20 अंतरराष्ट्रीय मैच खेले थे, लेकिन उन्हें टेस्ट खेलने का कोई मौका नहीं मिल पाया है।




इस आईपीएल में उथप्पा ने अब तक तीन अर्धशतक 68, 72 और 87 रन बनाए हैं। उन्होंने पुणे के खिलाफ अपनी मैच विजयी पारी में अपने पुराने चिरपरिचित अंदाज में छक्के मारे। उथप्पा ने मैच को लेकर कहा, पुणे ने बहुत अच्छी बल्लेबाजी कर 182 रन बनाए और हमें पता था कि रन रेट ऊंचा ही रखना होगा। हम हर ओवर में नौ रन बनाने के लिए खेल रहे थे और 15वें ओवर तक हमारी स्थिति अच्छी थी।






कोलकाता नाइटराइडर्स ने 10वें संस्करण में उथप्पा को मध्य क्रम पर बल्लेबाजी के लिए रखा है जबकि ओपनिंग में गौतम गंभीर खेल रहे हैं तथा कैरेबियाई स्पिनर सुनील नारायण को भी ओपनिंग का तीन बार मौका दिया जा चुका है। उथप्पा ने कहा, हां, मुझे मध्य क्रम पर खेलने में कुछ असहज हुआ क्योंकि इससे मैं पावरप्ले में नहीं खेल पा रहा हूं, लेकिन मुझे अपनी बल्लेबाजी पर पूरा भरोसा है कि मैं कभी भी टीम के लिए रन बना सकता हूं। (वार्ता)



और भी पढ़ें :