अमेरिकी 'चौधराहट' को चुनौती दे सकता है चीन, US खुफिया एजेंसियों की चेतावनी

पुनः संशोधित शुक्रवार, 22 अक्टूबर 2021 (23:51 IST)
वॉशिंगटन। निकट भविष्य में अमेरिकी 'चौधराहट' को चुनौती मिल सकती है। यह किसी और का कहना नहीं है, बल्कि अमेरिकी खुफिया एजेंसियां ही इस ओर इशारा कर रही हैं।


अमेरिकी अधिकारियों ने कृत्रिम बुद्धिमत्ता (Artificial Intelligence) में की महत्वाकांक्षाओं और उन्नत तकनीकों की एक श्रृंखला के बारे में नई चेतावनी जारी की है, जो अंततः बीजिंग को एक निर्णायक सैन्य बढ़त तथा अमेरिका में स्वास्थ्य देखभाल एवं अन्य आवश्यक क्षेत्रों पर संभावित प्रभुत्व प्रदान कर सकती हैं।
राष्ट्रीय खुफिया एवं सुरक्षा केंद्र के अधिकारियों ने बृहस्पतिवार को कहा कि चेतावनियों में प्रमुख उद्योगों में चीनी निवेश या विशेषज्ञता के प्रवेश का प्रयास शामिल है।
<a class=America vs China" class="imgCont" height="592" src="https://nonprod-media.webdunia.com/public_html/_media/hi/img/article/2020-05/22/full/1590095478-2206.jpg" style="border: 1px solid #DDD; margin-right: 0px; float: none; z-index: 0;" title="America vs China" width="740" />
राष्ट्रपति जो बाइडन प्रशासन की राष्ट्रीय सुरक्षा एजेंसियां ​​चीन के खिलाफ एक आक्रामक सार्वजनिक रुख अपना रही हैं, जिसे कुछ अधिकारियों ने अमेरिका के लिए सबसे बड़ा रणनीतिक खतरा कहा है। साथ ही बाइडन प्रशासन ने ट्रंप कार्यकाल के दौरान चीन के साथ पैदा हुए तनाव को कम करने तथा व्यापार और जलवायु परिवर्तन के मामले पर आम सहमति के साथ काम करने की कोशिश की है।
खुफिया प्रतिवाद केंद्र के कार्यवाहक निदेशक ने बृहस्पतिवार को पत्रकारों से कहा कि अमेरिका कृत्रिम बुद्धिमत्ता, स्वायत्त प्रणाली, क्वांटम कंप्यूटिंग, सेमी कंडक्टर और जैव प्रौद्योगिकी सहित विभिन्न प्रमुख क्षेत्रों में चीन से 'हारने का जोखिम नहीं उठा सकता।'

उन्होंने कहा कि कृत्रिम बुद्धिमत्ता में चीन की महत्वाकांक्षाओं और उन्नत तकनीकों की एक श्रृंखला अंततः बीजिंग को एक निर्णायक सैन्य बढ़त तथा अमेरिका में स्वास्थ्य देखभाल एवं अन्य आवश्यक क्षेत्रों पर संभावित प्रभुत्व प्रदान कर सकती हैं।



और भी पढ़ें :