भागवत कथा के नाम पर 40 लाख की ठगी, गुजरात का कथावाचक गिरफ्तार

पुनः संशोधित गुरुवार, 19 मई 2022 (00:07 IST)
हमें फॉलो करें
इंदौर। मध्य प्रदेश पुलिस ने श्रद्धालुओं से की ठगी के मामले में से 28 वर्षीय को बुधवार को कर लिया और उसके कब्जे से करीब 5 लाख रुपए की नकदी बरामद की।
पुलिस के एक अधिकारी ने यह जानकारी दी। पुलिस अधिकारी के मुताबिक कथावाचक पर आरोप है कि उसने हरिद्वार में भागवत कथा कराने के नाम पर इंदौर के श्रद्धालुओं से करीब 40 लाख रुपए जमा किए और बाद में यह धार्मिक आयोजन कराने से मुकर गया।

इंदौर के द्वारकापुरी पुलिस थाने के प्रभारी सतीश कुमार द्विवेदी ने बताया कि ठगी के मामले में अजीत सिंह चौहान उर्फ प्रभु महाराज (28) को गुजरात के अमरेली जिले से गिरफ्तार किया गया।

उन्होंने बताया कि चौहान ने पिछले साल इंदौर में भागवत कथा का आयोजन किया था। थाना प्रभारी ने बताया कि आरोपी ने इस कथा में बड़ी संख्या में शामिल श्रद्धालुओं को यह झांसा देते हुए उनसे करीब 40 लाख रुपए जमा किए थे कि वह उन्हें हरिद्वार की यात्रा कराएगा और उत्तराखंड की इस धार्मिक नगरी में ऐसी ही कथा कराएगा।

थाना प्रभारी ने बताया कि जब लंबे समय तक हरिद्वार में भागवत कथा का आयोजन नहीं हुआ और चौहान ने इस धार्मिक आयोजन के नाम पर जमा धन लौटाने में आनाकानी की, तो पीड़ित श्रद्धालुओं ने पुलिस को शिकायत की।

उन्होंने बताया कि इस शिकायत पर चौहान के खिलाफ भारतीय दंड विधान की धारा 420 (धोखाधड़ी) और 406 (आपराधिक विश्वासघात) के तहत मामला दर्ज किया गया है। थाना प्रभारी ने बताया कि गुजरात के कथावाचक के खिलाफ विस्तृत जांच की जा रही है।(भाषा)



और भी पढ़ें :