0

बुधवार के दिन कैसे और किन विशेष मंत्रों से करें श्री गणेश की पूजा, जानिए

रविवार,अक्टूबर 10, 2021
0
1
श्री गणेश शिवजी के पुत्र है। अगर आपको भी अपार धन-संपदा की अभिलाषा हो तो श्रावण मास में भगवान श्री गणेश का इन विशेष मंत्रों से अभिषेक किया जाना चाहिए।
1
2
भक्त अपनी सुविधा से 108 नामों का पाठ कर सकते हैं। यह 108 गजानन नाम श्री गणेश को प्रसन्न करते हैं और वे यश, कीर्ति, पराक्रम, वैभव, ऐश्वर्य, सौभाग्य, सफलता, धन, धान्य, बुद्धि,
2
3
हम बता रहे हैं ये 3 मंत्र जो आपके स्वास्थ्य में वृद्धि करेंगे और कार्य में उन्नति के साथ धन-समृद्धि भी प्रदान करेंगे। इन असरकारी मंत्रों का जाप करने से इंसान सारे कष्टों से मुक्ति पा सकता है।
3
4
हर दिन पूजा में चावल का प्रयोग कीजिए और बचे चावल मंदिर में दान कर दीजिए या किसी जरूरतमंद व्यक्ति को दे दें ऐसा हर सोमवार को करें। इस उपाय को अपनाने से कुछ ही समय में सकारात्मक परिणाम प्राप्त होने लगेंगे।
4
4
5
धार्मिक शास्त्रों के अनुसार हिंदू धर्म में हर पूजन, आराधना और अर्चना चावल या अक्षत के बिना अधूरी मानी गई है। पूजन में चावल या अक्षत की उपयोगिता आश्चर्यजनक रूप से असरकारी मानी गई है।
5
6
13 सितंबर 2021 से भाद्रपद मास में आने वाला 16 दिनों का महालक्ष्मी व्रत जारी है। इन खास दिनों में धन-वैभव देने वाली देवी माता महालक्ष्मी की विधि-विधिपूर्वक पूजन किया जाएगा तथा
6
7
किसी भी खास अवसर पर श्री गणेश के इन नामों का पढ़ने अथवा जपने से जीवन के संकट दूर होकर मनुष्य को यश, सुख और सम्मान की प्राप्ति होती है। श्री गणेश ने अलग-अलग युगों में अलग-अलग अवतार लेकर संसार के संकट का नाश किया।
7
8
भाद्रपद की पूर्णिमा से आश्विन माह की कृष्ण अमावस्या अर्थात सर्वपितृ मोक्ष अमावस्या तक 16 दिन तक श्राद्ध पक्ष रहता है। इस बार 20 सितंबर 2021 से श्राद्ध प्रारंभ हो रहे हैं। सभी जाने और अनजाने पितरों हेतु इस दिन निश्चित ही श्राद्ध किया जाना चाहिए। इस ...
8
8
9
मान-सम्मान, पद, प्रतिष्ठा, समाज में रुतबा, पूछ परख कौन नहीं चाहता... अगर कुछ उपाय आजमा लिए जाए तो यह सब आसानी से मिलने लगता है।
9
10
प्रस्तुत है चंद्रमा के 111 ऐसे नाम, जिनके जप से चंद्रदेव प्रसन्न होते हैं। मन का विश्वास बढ़ाने में भी यह नाम कारगर है क्योंकि चंद्र मन का कारक ग्रह है।
10
11
श्री गणेशोत्सव के 10 दिनों में जीवन की हर समस्या का समाधान पाया जा सकता है। यहां प्रस्तुत हैं 8 ऐसे विलक्षण मंत्र जिनके जाप से हर तरह की परेशानियों से मुक्ति पाई जा सकती है...
11
12
अनेक श्लोक, स्तोत्र, जाप द्वारा गणेशजी को मनाया जाता है। इनमें से गणपति अथर्वशीर्ष का पाठ विशेष कल्याणकारी है। प्रतिदिन प्रात:शुद्ध होकर इस पाठ करने से गणेशजी की कृपा अवश्य प्राप्त होती है।
12
13
30 अगस्त, सोमवार को भगवान श्री कृष्ण का जन्माष्टमी पर्व मनाया जा रहा है। यह पर्व धार्मिक दृष्टि से बहुत ही खास माना गया है। दुनियाभर में श्री कृष्ण के भक्तों की संख्या अनगिनत हैं।
13
14
वरलक्ष्मी व्रत के दिन मां लक्ष्मी के 108 नामों का जप करने से धन-धान्य, सुख-संपत्ति, वैभव, कीर्ति, ऐश्वर्य, सौभाग्य और आरोग्य की प्राप्ति होती है।
14
15
सावन मास के शुक्ल पक्ष की पंचमी तिथि को हिन्दू धर्म में नागपंचमी पर्व के रूप मान्यता है। पौराणिक शास्त्रों के अनुसार जिन जातकों की जन्म कुंडली में कालसर्प योग,
15
16
इस बार ये 12 अगस्त, बुधवार को दूर्वा गणपति व्रत है। श्रावण महीने के शुक्ल पक्ष की चतुर्थी को दूर्वा से भगवान श्री गणेश की विशेष पूजन की परंपरा है। इसे दूर्वा गणपति चौथ भी कहा जाता है।
16
17
मासिक शिवरात्रि पर शिवजी का पूजन किया जाता है। इस शुभ अवसर पर यहां प्रस्तुत है 15 ऐसे मंत्र जिनका जाप जीवन में हर तरह की अनुकूलता लाता है।
17
18
सुख-शांति की कामना से शिव का पूजन किया जाता है। इस दिन शिव पर पुष्प चढ़ाने तथा शिव के मंत्रों के जप का विशेष महत्व माना गया है। इस दिन पूरे विधि-विधान एवं मंत्र जाप से शिव की पूजा करने से मनुष्य
18
19
मंत्र' का अर्थ होता है मन को एक तंत्र में बांधना। संकट कालमें अनावश्यक और अत्यधिक विचार उत्पन्न हो रहे हैं और जिनके कारण चिंता पैदा हो रही है, तो मंत्र सबसे कारगर औषधि है। आप जिस भी ईष्ट की पूजा, प्रार्थना या ध्यान करते हैं उसके नाम का मंत्र जप सकते ...
19