New Year Poem : नया साल आया है, नया सवेरा लाया है


New Year 2022
Naya saal aaya hai



आया है, नया सवेरा लाया है,

हर घर में छाया है।

पड़ रही है कड़ाके की ठंड फिर भी जोश है नए साल का,

आओ सब मनाएं,

लेकिन अपनी जिम्मेदारियों को न भूल जाएं,

नया साल है नई जिम्मेदारी, नया लक्ष्य हमको बनाना है,

लक्ष्य को साकार करके गंतव्य तक पहुंचाना हैं

नया साल आया है, नया सवेरा लाया है,

हर घर में खुशियों का मौसम छाया है।
नए साल में न सोये कोई भी भूखा,


किसी के जीवन में न हो कोई भी सूखा,

हर किसी के जीवन में आए खुशियाली,

न हो किसी के जीवन में बदहाली,

बदहाली को मिलकर सभी बदल डालेंगे,

आनंद ही आनंद चहुंओर आएगा,

नया साल आया है, नया सवेरा लाया है,

हर घर में खुशियों का मौसम छाया है।

करेंगे इज्जत नारी की, न करेंगे भेदभाव,

जब हम नारी के सम्मान के लिए लड़ जाएंगे,

तभी हम असल में सच्चे मर्द कहलाएंगे,

मातृशक्ति का वैभव पुनः लेकर आएंगे,

भारत माता का मान विश्व तक पहुंचाएंगे,

नया साल आया है नया सवेरा लाया है

हर घर में खुशियों का मौसम छाया है।

नए संकल्प लेंगे और नए लक्ष्य बनाएंगे,

करेंगे मेहनत और अवसरों को सफलता में बदल डालेंगे,

नए साल में कुछ नया गढ़ डालेंगे,

कर्तव्यपथ से बिना रुके आगे बढ़ते जाना है,

चाहें हार हो या जीत लेकिन अपना हौंसला नहीं डिगाना है,

नया साल आया है, नया सवेरा लाया है

हर घर में खुशियों का मौसम छाया है।

प्रकृति से खिलवाड़ बंद करेंगे,

नदियों, वनों, पशु, पक्षियों और पहाड़ों से प्रेम करेंगे

यही होना चाहिए हिमालय सा संकल्प हर मानव का,

तभी इस प्रकृति का विध्वंस होने से बचा पाएंगे,

अन्नदाता की आंखों से आंसुओं को पोंछ डालेंगे,

उनकी हर समस्या का निदान कर डालेंगे,

होगी जरूरत तो उसके हक के लिए लड़ जाएंगे,

नया साल आया है, नया सवेरा लाया है

हर घर में खुशियों का मौसम छाया है।

करेंगे नमन उस भारत के वीर जवान को,

जो लड़ता है सरहद पर हिन्दुस्तान की आन-बान-शान के लिए,

भारत माता को पुनः जगद्गुरु के सिहांसन पर बिठाएंगे,

भारत के वैभव को विश्व में चहुंओर फैलाएंगे,

दुनिया में भारत का शंखनाद होने को आया है,

नया साल आया है, नया सवेरा लाया है

हर घर में खुशियों का मौसम छाया है।

Happy New Year 2022
Happy New Year 2022
Happy New Year 2022
Happy New Year 2022

(वेबदुनिया पर दिए किसी भी कंटेट के प्रकाशन के लिए लेखक/वेबदुनिया की अनुमति/स्वीकृति आवश्यक है, इसके बिना रचनाओं/लेखों का उपयोग वर्जित है...)



और भी पढ़ें :