0

World food Day - जानिए क्यों मनाया जाता है विश्‍व खाद्य दिवस, भारत में बड़ी भुखमरी!

शनिवार,अक्टूबर 16, 2021
0
1
हर साल 16 अक्टूबर को वर्ल्ड स्पाइन डे मनाया जाता है। इस दिवस को मनाने का उद्देश्य है रीढ़ की हड्डी के देखभाल के प्रति लोगों को जागरूक करना। क्‍योंकि रीढ़ की हड्डी में किसी प्रकार की परेशानी होने पर सामान्य कार्य करने में भी परेशानी होती है। इन दिनों ...
1
2
एक उम्र के बाद शरीर में कुछ बीमारियां जड़ से चिपक जाती है। जिसके बाद लगातार अलग-अलग बीमारियां उससे बढ़ने लगती है। इन दिनों महिलाओं में यूरिक एसिड की तादाद अधिक पाई जा रही है जिससे मांसपेशियों में दर्द होता रहता है और सीधे किडनी पर प्रभाव पड़ता । ...
2
3
अगर आप सुबह सैर के लिए निकलते हैं तो आधा-एक घंटा देर से जाना शुरू करें, ताकि सवेरे की ठंड से बचाव हो सके। हल्की-हल्की गुनगुनी धूप में जाएं तो भी कोई हर्ज नहीं है। विटामिन-डी का सेवन भी हो जाएगा।
3
4
इस दौर में वर्क फ्रॉम होम और ऑनलाइन जॉब्स के कारण लोगों का स्क्रीन टाइम वैसे ही काफी बढ़ गया है। इस पर बचे हुए समय में अगर आपको सोशल मीडिया सर्फ करना और नेटफ्लिक्स, फेसबुक आदि‍ देख्ते हैं। इसमें कटौती करें
4
4
5
गोल-गोल और हल्के पीले और नारंगी रंग की खूबानी जितना सुन्दर दिखती है उससे कहीं ज्यादा पौष्टिक और गुणकारी होती है। कई बार यह गुलाबी रंग की भी होती हैं।
5
6
शरीर द्वारा उत्सर्जित तत्व भी आपकी सेहत के कई राज खोलते हैं। इनमें खास तौर से आपकी यूरिन/पेशाब का रंग और उनमें होने वाला बदलाव भी सेहत से जुड़ी अहम जानकारी देने
6
7
क्या आप दूसरों के मुकाबले तेजी से वजन कम करना चाहते हैं? अगर हां तो केवल एक्सरसाइज करना ही काफी नहीं है बल्कि आपको अपनी डाइट में ऐसा आहार शामिल करना चाहिए, जो विटामिन-सी से भरपूर हो। जी हां, ऐसा सिर्फ हम नहीं कह रहे बल्कि एक स्टडी में पाया गया है। ...
7
8
शरीर में खून की कमी होने पर बीमारी की चपेट में आ जाते हैं। जिससे एनिमिया का शिकार हो जाते हैं। खून की कमी होने पर बॉडी, आंख, नाखून, हथेली एकदम सफेद हो जाती है। इतना ही नहीं खून की कमी से महिलओं को पीरियड्स में अधिक समस्‍या आती है। लेकिन 10 सटीक ...
8
8
9
कई लोगों का ऐसा मानना होता है कि वह पेट भरकर खाना खाते हैं फिर भी बीमारियों से वह गिरे रहते हैं। लेकिन कमी होती है अच्‍छी डाइट में। जी हां, खाना तो सभी खाते हैं लेकिन शरीर को ऊर्जा जरूरी पोषक तत्‍वों से मिलती है। इसके लिए भोजन में विटामिन, मिनरल्‍स, ...
9
10
हाइपरटेंशन यानी उच्च रक्तचाप (High BP) की समस्या जो कि हार्ट संबंधी परेशानियों का कारण भी बन सकती है। जब ये प्रॉब्लम बढ़ जाती है तब जरूरी है
10
11
पाचन तंत्र के मजबूत रहने से आपको कभी भी पेट से संबंधित समस्या नहीं होगी। लेकिन जहां पाचन साइकिल गड़बड़ करने लगता है, इसका असर आपकी सेहत पर दिखता है। दरअसल, शरीर में एक ट्यूब होती है जिसमें क्रमानुसार आपका भोजन बृहदांत्र तक पहुंचता है। जो भी अन्न ...
11
12
युवाओं में डिप्रेशन, मानसिक तनाव तेजी से और अधिक बढ़ रहा है। इस तरह की मेंटल प्रोब्लम का सबसे बड़ा कारण होता है अप्रबंधन की वजह से यानी लाइफ में मिस मैनेजमेंट। इसी के साथ आपकी लाइफस्टाइल किस तरह की है, आप क्या खाते हैं यह भी काफी हद तक मायने रखता है। ...
12
13

Healthy Food : पोषण से भरपूर 6 सस्ते फूड

शुक्रवार,अक्टूबर 15, 2021
वक्त बदल रहा है और महंगाई 7वें आसमान पर पहुंच रही हैं। शरीर की जरूरत चीजें महंगी होने पर कई बार उन्हें छोड़ दिया जाता है और इंतजार किया जाता है कि सस्ती होने पर उन्हें खरीदकर खा लेंगे। लेकिन अक्सर लोगों को पता नहीं होता है कि महंगे फल ही नहीं बल्कि ...
13
14
लौकी का सेवन करना सेहत के लिए बहुत अच्‍छा है। इसे कई प्रकार से खा सकते हैं। सब्‍जी, जूस, खीर, कलाकंद, पराठे सहित अन्‍य तरीकों से इसका सेवन किया जा सकता है। इसका सेवन करने से कब्‍ज और गैस की समस्‍या में राहत मितली है। इसमें विटामिन ए, विटामिन सी, ...
14
15
नवरात्रि में नौ दिन तक उपवास कर मां की आराधना की जाती है। अलग - अलग प्रकार से नौ दिन तक भक्तगण आराधना करते हैं। इस दौरान सिर्फ फलाहार ही खाया जाता है। हालांकि इसमें भी कई प्रकार की खाने के आइटम अब उपलब्‍ध होने लगे हैं। लेकिन युवाओं को जंक फूड बहुत ...
15
16
त्योहारी सीजन में हमें पूरी सावधानी के साथ कोरोनावायरस के खतरे को देखते हुए आगे बढ़ना होगा। नवरात्र के बाद दशहरा, दीपावली क्रिसमस जैसे मुख्य त्योहार एक के बाद एक हैं। ऐसे में त्योहार घर-परिवार और रिश्तेदारों व अपने दोस्तों के साथ लोग त्योहार को ...
16
17
बेली फैट को कम करने के लिए मेहनत थोड़ी अधिक करना पड़ती है। क्‍योंकि आ जो कुछ भी खाते हैं वह सबसे पहले आपके पेट में जमा होती है। वहीं अगर जॉब भी कर रहे हैं और जिम भी जा रहे हैं तो सब कुछ एकसाथ करना मुश्किल हो जाता है। ऐसे में डाइट में बदलाव कर पेट पर ...
17
18
दशहरे पर बांटी जाने वाली पत्तियां जिसे सोना-चांदी कहते हैं, दरअसल शमी की पत्‍तियां हैं जो सेहत के फायदे भी देती है। इसे सफेद कीकर, खेजडो, समडी, शाई, बाबली, बली, चेत्त आदि भी कहा जाता है। आयुर्वेद में भी शमी के वृक्ष का काफी महत्व बताया गया है। आप भी ...
18
19
अभी कोरोना संक्रमण चारों ओर फैला हुआ है। ऐसे समय में इम्‍युनिटी बनाए रखने में प्रोटीन की अहमियत सबसे ज्यादा है। पनीर आपकी तात्कालिक आवश्यकता को पूरा करने में मदद करता है।
19