Red Okra : चर्चा का विषय बनी कुमकुम भिंडी, जानें सेहत से जुड़े कई लाभ

अभी तक सभी ने हरी भिंडी के बारे में सुना है। हरी भिंडी से होने वाले लाभ के बारे में जानते हैं। वहीं बच्चों को भिंडी बहुत ज्यादा पसंद आती है। हरी भिंडी खाने से कैंसर का खतरा

कम होता है, दिल की बीमारी, डायबिटीज, एनीमिया, पाचन तंत्र में आराम मिलता है। लेकिन कुमकुम भिंडी इन दिनों चर्चा का विषय बन गई है। लाल भिंडी के मुनाफे से लेकर सेहत
के कई लाभ है। मप्र और उत्‍तरप्रदेश में इस भिंडी की काफी चर्चा हो रही है। खबरों के मुताबिक विदेशों से भी इस भिंडी को लेकर मांग बढ़ रही है। लाल भिंडी की खेती से किसान
अच्‍छी कमाई कर सकते हैं।
तो आइए जानते हैं लाल भिंडी से जुड़ें सेहत के राज...

लाल भिंडी के फायदे

- इसमें एंटीऑक्सीडेंट और आयरन भरपूर मात्रा में पाया जाता है। लाल भिंडी में करीब 94 फीसदी पॉली अनसैचुरेटेड फैट होता है। जो खराब कोलेस्ट्रॉल को खत्म करने में मदद करता है।
- लाल भिंडी में 66 फीसदी सोडियम की मात्रा हाई ब्लड प्रेशर को कम करने में मदद करती है। इसके सेवन से मेटाबॉलिक सिस्टम ठीक होता है।
- आयरन एनीमिया की कमी को दूर करती है।
- इसमें एंथोसायनिन और फेनोलिक्स होता है। जो जरूरी पोषक मूल्य को बढ़ाता है। विटामिन बी कॉम्‍प्‍लेक्‍स होता है। फाइबर शुगर को कम करता है।


लाल भिंडी की पैदावार

- यह मूल रूप से फरवरी या उसके आसपास उगाई जाती है। नवंबर माह में बीज बोये जाते हैं। इसके बाद फरवरी में आते हैं। दिसंबर-जनवरी में इसकी पैदावार कम होती है। लेकिन फरवरी में भिंडी आने लगती है। नवंबर तक वह चलती रहती है। लाल भिंडी की पैदावार की लागत भी कम आती है और समय भी कम लगता है। लेकिन
इस भिंडी के भाव बहुत होते हैं। एक सुपरफूड कहे जाने वाली यह भिंडी 45 रूपए से 80 रूपए प्रति किलो तक बिकती है। इसके भाव 800 रूपए प्रति किलो तक भी पहुंच जाते हैं। तो
इस तरह कुमकुम भिंडी का सेहत के साथ फायदे का सौदा भी है।



और भी पढ़ें :