Dengue Dangerous for Kids: जानिए बच्चों के लिए क्यों खतरनाक है डेंगू

कोरोना का प्रकोप कम हो रहा है तो दूसरी ओर डेंगू का खतरा तेजी से बढ़ रहा है। अन्‍य सालों के मुकाबले इस बार बच्‍चों में डेंगू के केस सबसे अधिक सामने आए है। यूपी, दिल्‍ली और मप्र में तेजी से डेंगू का प्रकोप फैला है। विशेषज्ञों के मुताबिक डेंगू बच्‍चों के लिए इसलिए खतरनाक है क्‍योंकि बच्‍चों का इम्‍यूनिटी वयस्‍कों के मुकाबले

कमजोर होता है। सालभर में वह करीब 6 बार श्‍वास संबंधित बीमारी से ग्रसित होते हैं। ऐसे में बच्‍चे डेंगू की चपेट में जल्‍दी आते हैं। वहीं देखा जाए तो लॉकडाउन खुलने के बाद से बच्‍चे बाहर का अधिक खाने लगे हैं। बारिश में बाहर का खाना कभी नहीं खाना चाहिए। दरअसल, डेंगू साफ और गंदे पानी दोनों जगह पनपते हैं, इसलिए बारिश के मौसम में कहीं भी पानी जमा नहीं होने देना चाहिए। यह बीमार एडीज नामक मच्‍छर के काटने से होती है।

डेंगू से बचाव के उपचार

- घर में पानी या नमी जमा नहीं होना चाहिए।
- नीम के तेल का छिड़काव करें।
- बच्‍चों को फुल स्‍लीव ड्रेस पहनाएं।
- बच्‍चों को मच्‍छरदानी के अंदर सुलाए।
- लक्षण दिखने पर तुरंत डॉक्‍टर से संपर्क करें।
- मच्‍छर नहीं काटे इसके लिए बाजार में उपलब्‍ध क्रीम लगा सकते हैं।
डेंगू के लक्षण

- 102 डिग्री से अधिक बुखार आना।
- शरीर में पानी की कमी होना।
- हाथ, पैर दर्द करना।
- पेट में दर्द होना।




और भी पढ़ें :