World Computer Literacy Day 2021 : कम्प्यूटर साक्षरता दिवस 2 दिसंबर को क्यों मनाया जाता है

Last Updated: गुरुवार, 2 दिसंबर 2021 (12:12 IST)
हमें फॉलो करें

ऐसा किसी को ज्ञात नहीं था कि कंप्यूटर का युग इतनी तेजी आ जाएगा। आज समूची दुनिया के काम कंप्यूटर पर किए जा रहे हैं। कोविड-19 के दौर में असंभव चीजें भी संभव हो गई। लोकल कंपनी से लेकर अंतरराष्‍ट्रीय स्‍तर की कंपनियों के काम कंप्यूटर की मदद से घर से किए गए। ये है कंप्यूटर की ताकत। इस दिवस को मनाने का भी यही उद्देश्य है जिन्हें कंप्यूटर के बारे में ज्ञान नहीं है, जो चलाना नहीं जानते हैं वे उन्हें इसके बारे में साक्षर करना। क्‍योंकि किसी भी प्रकार का काम करने के लिए कंप्यूटर का ज्ञान होना बहुत जरूरी है। अन्यथा वह अच्‍छी नौकरी नहीं कर पाएगा। आइए जानते हैं आज ही के दिन कम्प्यूटर साक्षरता दिवस क्यों मनाया जाता है-




विश्‍व कंंप्‍यूटर साक्षरता दिवस को मनाने की शुरुआत भारतीय कंप्यूटर कंपनी NIIT ने साल 2001 में अपनी 20वीं वर्षगांठ को चिह्नित करने के लिए की थी। यह दिन डिजिटलीकरण के महत्व को बढ़ाने के उद्देश्य से यह दिवस मनाया जाता है।

वर्तमान में हर दिन पूरी दुनिया में 2 लाख कंप्यूटर रोज बिकते हैं।


वर्तमान में पूरी दुनिया कंप्‍यूटर से अपना सभी कार्य कर रही है। फिर वह पढ़ाई हो, नौकरी हो, कोई मीटिंग, क्‍लास हो सब कुछ। यह एक अभिन्‍न हिस्‍सा बन गया है। कंप्यूटर से आज के वक्त में काम करना बहुत आसान हो गया है। कोविड काल के दौरान 99 फीसदी लोग घर से काम कर रहे थे। इस दौरान कई लोग हिल स्‍टेशन पर चले गए। वादियों के बीच रहकर अपना काम कर रहे थे। इस तरह कंप्यूटर आज के युग में बहुत महत्वपूर्ण हो गया है।



और भी पढ़ें :