कैसे चुनी जाती है मिस यूनिवर्स


21 साल बाद भारत को का खिताब भारत को मिला है। हालांकि वक्त बदल रहा है और अब इस क्षेत्र में लड़कियां काफी तेजी से

आगे बढ़ रही है। साथ ही इस पेशे को काफी सम्मान के साथ देखा जाने लगा है। लेकिन वक्त के साथ मॉडलिंग की दुनिया में भी काफी बदलाव
देखने को मिले हैं। इस क्षेत्र नाम और फेम के अलावा स्किल्‍स की डिमांड भी बढ़ी है। आज के वक्त में मॉडलिंग एक बेहतर करियर ऑप्‍शन
बनकर उभरा है। आइए जानते हैं कुछ जरूरी बातें -

पहले जानते हैं कैसे बनें मिस यूनिवर्स -

यह प्रतियोगिता, द मिस यूनिवर्स ऑर्गेनाइजेशन द्वारा आयोजित की जाती है। इसके लिए हर देश में अलग-अलग कंपनियों के साथ मिलकरप्रतियोगिता आयोजित किया जाता है। विभिन्न शहरों में प्रतियोगिताओं का चयन होने के बाद राष्‍ट्रीय स्‍तर पर प्रतियोगिता होती है। इसके बाद

वैश्विक स्‍तर के लिए चयन किया जाता है। इसके बाद मिस यूनिवर्स प्रतियोगिता में भाग लेना रहता है। दो हफ्ते तक यह प्रतियोगिता चलती है।
और फिर फाइनल और सेमीफाइनल का चयन होता है।

मॉडलिंग के लिए चाहिए ये योग्यता -

गुड लुकिंग, अच्‍छी हाइट और शारीरिक बनावट के साथ अब बहुत सारे बदलाव भी हो गए है। इन सभी के साथ में आप आत्‍मविश्‍वास, कैमरे का
सामना करने की क्षमता आपके लिए जरूरी है। क्‍लीजिंग और स्‍माइलिंग और
पर्सनालिटी वाले लोग को अधिक और जल्‍दी मौके मिलते हैं।


कैसे करें शुरुआत -

मिस यूनिवर्स बनने का सपना शुरू से ही देख रहे हैं तो इसके लिए आपको छोटी उम्र से ही शुरुआत कर देना चाहिए। स्कूल में होने वाले कॉम्पिटिशन में हिस्सा लें, स्‍टेट लेवल पर होने वाले प्रतियोगिता में हिस्सा लें। इन प्रतियोगिता में विजेताओं को ही मिस यूनिवर्स या मिस वर्ल्ड जैसी प्रतियोगिताओं के लिए आगे भेजा जाता है। इसके लिए आप मॉडलिंग एजेंसी से भी जुड़ सकते हैं। अपनी पढ़ाई के साथ पोर्टफोलियो भी तैयार करते रहे। पोर्टफोलियो से आगे बढ़ाने में काफी मदद मिलती है।


मिस यूनिवर्स क्‍या है?

मिस यूनिवर्स का मतलब है ब्रह्मांड सुंदरी। मिस यूनिवर्स संगठन द्वारा हर साल ये प्रतियोगिता अंतरराष्‍ट्रीय स्‍तर पर आयोजित की जाती है।इसकी स्‍थापना एक कपड़े की कंपनी पेसिफिक मिल्‍स ने 1952 में कैलिफोर्निया, यूनाइटेड स्‍टेट्स में की थी। इसके बाद कैसर-रोथ और फिर
गल्‍फ एंड वेस्टर्न इंडस्ट्री का हिस्सा बनी।



और भी पढ़ें :