0

Navratri Food : साबूदाना वडा विथ पोटॅटो

मंगलवार,मार्च 29, 2022
0
1
Navratri 10 Food Items- हिन्दू धर्म का प्रमुख पर्व है नवरात्रि (Navratri Festival)। अधिकतर सभी भारतीय घरों में लोग नवरात्रि के नौ दिनों व्रत-उपवास रखकर फलाहार ग्रहण करते हैं। अगर आप भी इस दुर्गा पर्व पर व्रत रखने की सोच रहे हैं
1
2
नवरात्रि व्रत शुरू हो रहे हैं और नवरात्रि में उपवास रखकर फलाहार (Navratri Fasting Food) का भी अपना महत्व है। ऐसा फलाहार जो हेल्दी होने के साथ-साथ आपका एनर्जी लेवल मेंटेन रखें, तो फिर बनाएं यह खास रेसिपी-
2
3
ताजा पनीर कद्दूकस करके उसमें मैश किए आलू, काजू, हरी मिर्च, कद्दूकस अदरक और सेंधा नमक मिला कर छोटे-छोटे गोले बना लें। अब थोड़ा-सा सेंधा नमक डालकर सिंघाड़े के आटे का घोल बनाएं।
3
4
पनीर को मोटे चौकोर टुकड़ों में काटें। आलू, टमाटर एवं शिमला मिर्च को भी चौकोर टुकड़ों में काट लें। धनिया, हरी मिर्च एवं अदरक को पीसकर पेस्ट बना लें। इसमें दही, नमक, नींबू का रस मिलाएं।
4
4
5
अगर आप भी महाशिवरात्रि का व्रत-उपवास रखने का सोच रहे हैं तो फलाहार के लिए ट्राय करें ये 2 खास रेसिपीज। जिसमें लौकी या घिया (दूधी) का उपयोग करके बनाए यह खास 2 मीठे व्यंजन।
5
6
मोरधन को साफ करके 2 घंटे के लिए भिगो दें, फिर मिक्सी में महीन पीस लें। आलू उबालकर मेश कर लें। कड़ाही में 50 ग्राम तेल डालकर गरम करें। जीरा व हरी मिर्च डाल दें, तड़कने लगे...
6
7
महाशिवरात्रि (Mahashivratri) भारतीयों का प्रमुख व्रत-पर्व है। इस दिन अधिकतर सभी लोग व्रत-उपवास रखकर फलाहार ग्रहण करते हैं। अगर आप भी इस दिन व्रत रखने की सोच रहे हैं तो यह रेसिपी ट्राय कीजिए। स्वाद में लाजवाब यह डिश आपको जरूर पसंद आएगी। पढ़ें आसान ...
7
8
व्रत-उपवास में अगर आप भी मीठा खाना चाहते हैं तो ट्राय करें लाजवाब मखाने की बर्फी (Lotus seed Barfi)। पढ़ें एकदम सरल विधि-
8
8
9
माघ मास (Magh Month) के चतुर्थी को तिल संकष्टी, संकट या संकटा चौथ (Til Sankashti Chauth) कहलाती है। इस दिन श्री गणेश पूजन के बाद तिलकूट का भोग लगाने की मान्यता है।
9
10
ताजा पनीर लें। अब उसे कद्दूकस करके उसमें मैश किए आलू, काजू, तिल, हरी मिर्च, कद्दूकस अदरक और सेंधा नमक मिला कर छोटे-छोटे गोले बना लें।
10
11
साबूदाने को चार घंटे पहले भिगो लें। मूंगफली को भी अलग से भिगोकर दरदरा पीस लें। उबले आलू को साबूदाने व मूंगफली के साथ अच्छी तरह मिला लें व सारे मसाले को भी मिला लें।
11
12
आलू का चटपटा फलाहारी नमकीन बनाने के लिए सबसे पहले आलुओं को छीलकर मोटा-मोटा कद्दूकस कर (किस) लें।
12
13
सबसे पहले एक कड़ाही में घी गरम करके कद्दूकस की हुई लौकी डाल दें और हल्का भूनकर अलग रख लें। अब कड़ाही में थोड़ा-सा पानी डालें, फिर चीनी डालें।
13
14
सबसे पहले मखाने को घी में भून लें। अब सूखे नारियल के गोले के पतले-पतले लंबे टुकड़े काटकर गरी तैयार करके इन्हें भी हल्का-सा भून लें।
14
15
साबूदाने को रात में गला दें। सुबह दही डालकर मिक्सर में पीसें। राजगिरे का आटा भी इसमें मिलाए। नमक डालकर डोसे का घोल तैयार करें।
15
16
नवरात्रि व्रत में फलाहार का भी अपना महत्व है। ऐसे समय में फलाहार के नाम पर हम कुछ भी खा लेते हैं, यहां आपके लिए लेकर आएं हैं 5 तरह के खास व्यंजन, जो हेल्दी होने के साथ-साथ आपका एनर्जी लेवल भी मेंटेन रखेंगे।
16
17
साबूदाने को धोकर पानी में भिगो दें। थोड़ी देर बाद इसका पानी निथारकर 1-2 घंटे के लिए रख दें। अब मूंगफली को दरदरा पीस लें और आलू को छीलकर मैश करें।
17
18
नवरात्रि पर्व में व्रतधारी उपवास करते हैं, ऐसे समय में व्रत के दौरान अपने खान-पान यानी उपवास के दिनों में आपकी क्या डाइट होनी चाहिए इसका ख्याल रखना भी बहुत जरूरी है।
18
19
सबसे पहले किसी हुई लौकी को एक कड़ाही में घी डालकर हल्का भूनकर अलग रख लें।
19
20
आप भी श्रावण मास में पूरे माह व्रत रख रहे है और फलाहार बनाने जा रहे हैं तो रिमझिम मौसम में ट्राय करें ये यमी-यमी डिशेज। पढ़ें 5 रेसिपी आइडियाज-
20
21
साबूदाने की खिचड़ी बनाने से 3-4 घंटे पूर्व साबूदाने को भिगो कर रख दें। आलू को छीलकर टुकड़े कर लें। एक कड़ाही में घी गरम करके उसमें जीरा,
21
22
सबसे पहले कच्चे केले को उबाल लें। ठंडे होने पर छिलके उतार कर हाथ से मैश कर लें। अब एक थाली में सिंघाड़ा अथवा राजगिरा आटा लेकर छान लें।
22
23
नवरात्रि में पेड़े केभोग से माता रानी प्रसन्न होंगी। कैसे बनाएं घर पर- सबसे पहले दूध में मेवे की कतरन मिलाकर मिक्सी में महीन पेस्ट तैयार करें।
23
24
सर्वप्रथम भीगे हुए साबूदाने को मिक्सर में थोड़े-से पिस लें और आलू को छीलकर हाथ से मसल लें। फिर आलू में पिसे हुए साबूदाने मिलाकर नमक, बारीक कटी हरी मिर्च
24
25
सबसे पहले साबूदाने को 2-3 बार धोकर पानी में थोड़ी देर रखें, फिर पानी निथारकर 1-2 घंटे के लिए भिगो कर रख दें।
25
26
दही फेंट कर राजगीरा व सिंघाड़ा आटा मिला दें। मोरधन को पीसकर सभी चीजें मिलाकर मिश्रण तैयार करें। इसमें एक चम्मच सोड़ा एवं नमक डालकर
26
27
पहले पनीर के 1-1 इंच के टुकड़े कर लें व हल्का-सा नमक व काली मिर्च बुरका कर रख दें। तेल तथा पनीर छोड़कर सभी सामग्री ठीक से मिला लें व गोले बना लें
27
28
2 कटोरी राजगिरे का आटा, 1/2 कटोरी सिंघाड़े का आटा, 1/2 कटोरी मूंगफली दाने, 1 चम्मच सौंफ दरदरी पिसी हुई, 4-5 हरी मिर्च का पेस्ट, 1 चम्मच लाल मिर्च, नमक (सेंधा) स्वादानुसार,
28
29
राजगिरे के लड्‍डू काफी फायदेमंद साबित हो सकते है। इसको बनाने की विधि एकदम आसान है, बस 4 टिप्स और खस्ता राजगिरे के लड्‍डू तैयार...
29
30
सबसे पहले केले को गोल आकार में काट लें। एक कड़ाही में घी गरम करके केले
30
31
आलू को उबाल कर छील लें। अब आलू को मसल कर उसमें भीगा हुआ साबूदाना, मोरधन और राजगिरे का आटा, नमक, पिसी अदरक
31
32
खीर बनाने से एक-दो घंटे पूर्व साबूदाने को धोकर भीगो दें। अब एक बर्तन में दूध को गरम कर अच्छा उबलने दें। तत्पश्चात एक अलग कटोरी में एक छोटा चम्मच गरम दूध लेकर केसर गला दें।
32