ट्विटर को मोदी सरकार की दोटूक, यहां रहना है तो करना होगा नियमों का पालन

Last Updated: गुरुवार, 11 फ़रवरी 2021 (09:02 IST)
हमें फॉलो करें
नई दिल्ली। सरकार ने के बारे में दुष्प्रचार और भड़काऊ बातें फैला रहे एकाउंट और हैशटैग के खिलाफ त्वरित कार्रवाई करने में के देरी करने पर बुधवार को 'कड़ी नाराजगी' प्रकट की। सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय किया कि कंपनी के अपने भले ही कोई नियम हों, लेकिन उसे देश के कानूनों का पालन करना ही चाहिए।
ALSO READ:

250 ट्विटर अकाउंट पर रोक, किसान आंदोलन के दिन चलाए थे आपत्तिजनक हैशटैग
ट्विटर ने 500 से अधिक एकाउंट निलंबित किए हैं। हालांकि उसने अभिव्यक्ति की आजादी को अक्षुण्ण रखने की जरूरत का हवाला देते हुए ख ने स्पष्टबरिया निकायों, पत्रकारों, कार्यकर्ताओं एवं नेताओं के एकाउंट पर रोक लगाने से इंकार किया है।
आईटी सचिव और ट्विटर के वरिष्ठ अधिकारियों के बीच डिजिटल संवाद के दौरान सरकार ने इस मंच से कहा कि भारत में काम कर रहे कारोबारी निकाय के रूप में उसे कानूनों एवं लोकतांत्रिक संस्थानों का सम्मान करना ही चाहिए और देश में सद्भाव बिगाड़ने और अशांति फैलाने से जुड़े अभियानों पर कड़ी कार्रवाई करनी चाहिए। सचिव ने किसान आंदोलन के संदर्भ में भड़काऊ बातों पर कार्रवाई करने से जुड़े सरकारी आदेशों का पालन नहीं करने पर ट्विटर की आलोचना की। (इनपुट भाषा)



और भी पढ़ें :