Omicron से दुनियाभर में मचा हाहाकार, इसराइल-बेल्जियम में सामने आए मामले, इन देशों ने अफ्रीका से आने वाली फ्लाइट्‍स पर लगाया प्रतिबंध

Last Updated: शनिवार, 27 नवंबर 2021 (20:57 IST)
वॉशिंगटन/ नई दिल्ली। दक्षिण अफ्रीका में मिले कोरोनावायरस (Coronavirus) (कोविड-19) के नए रूप (Omicron) ने दुनियाभर में लोगों की चिंता बढ़ा दी। कोरोना के इस रूप के कारण वैश्विक स्तर पर फैले भय के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस जानलेवा विषाणु की वर्तमान स्थिति और इससे निपटने को लेकर शनिवार को एक उच्चस्तरीय बैठक की अध्यक्षता की।
मोदी ने अधिकारियों को भारत में अंतरराष्ट्रीय उड़ानों को बहाल करने की योजना की समीक्षा करने और इस दिशा में सावधानी से बढ़ने के निर्देश दिए। आधिकारिक बयान के अनुसार, इस बैठक में अधिकारियों ने मोदी को के दक्षिण अफ्रीकी स्वरूप ओमिक्रॉन की जानकारी दी। ने कोरोना के नए रूप को ‘ओमिक्रॉन’ नाम दिया है।

बयान के अनुसार मोदी ने अधिकारियों को नए खतरे को देखते हुए बचाव पर और अधिक ध्यान दिए जाने का निर्देश दिया। बयान में कहा गया, प्रधानमंत्री ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि नए उभरते साक्ष्यों (कोविड-19 के नए रूप) को देखते हुए अंतरराष्ट्रीय यात्राओं पर पाबंदियों में ढील देने की योजना की समीक्षा की जाए।

बैठक में प्रधानमंत्री ने इस बात पर जोर दिया कि कोविड महामारी के नए खतरे को देखते हुए लोगों को मास्क पहने तथा सार्वजनिक जगहों पर एक-दूसरे के साथ दूरी बनाकर रखने जैसी सावधानियों का पूरा अनुपालन करने पर भी जोर दिया। उन्होंने कहा है कि ‘जोखिम वाले देशों’ से आने वाले हर यात्री की कड़ाई के साथ घोषित नियमों और निर्देशों के अनुसार चिकित्सीय जांच कराई जाएगी।

दक्षिण अफ्रीका में मिला कोरोना का नया वैरिएंट ओमिक्रान काफी तेजी से दुनिया के अन्य देशों में फैल रहा है। हांगकांग और बोत्सवाना के बाद शुक्रवार को इसराइल और बेल्जियम में इस वैरिएंट से संक्रमित लोग मिले हैं। इसके बाद ब्रिटेन, ऑस्ट्रिया, कनाडा, फ्रांस, जर्मनी, इटली और नीदरलैंड ने अफ्रीकी देशों से आने वाली फ्लाइट्स पर पाबंदी लगा दी। अब अमेरिका, सऊदी अरब, श्रीलंका, ब्राजील सहित कई अन्य देशों ने भी अफ्रीकी देशों की उड़ानों पर प्रतिबंध लगा दिया है।

सीएनएन की रिपोर्ट के मुताबिक अमेरिका के राष्ट्रपति जो बिडेन ने दक्षिण अफ्रीका से यात्रा को प्रतिबंधित करने वाली आधिकारिक घोषणा पर अपने हस्ताक्षर कर दिए हैं, जो कि सोमवार दोपहर बाद 12:01 बजे से प्रभावी होगी।

प्रोटोकॉल के अनुसार यह आदेश उन लोगों पर लागू होगा, जो अमेरिका में प्रवेश करने के 14 दिन पहले बोत्सवाना, इस्वातिनी, लेसोथो, मलावी, मोजाम्बिक, नामीबिया, दक्षिण अफ्रीका और जिम्बाब्वे में मौजूद थे। इस बीच, ऑस्ट्रेलिया ने नौ दक्षिण अफ्रीकी देशों की सभी उड़ानों पर प्रतिबंध लगा दिया है।

भारत ने हालांकि अब तक किसी देश की उड़ान पर पाबंदी नहीं लगाई है, लेकिन दक्षिण अफ्रीका, ब्राजील, बांग्‍लादेश, बोत्सवाना, चीन, मॉरिशस, न्यूजीलैंड, जिम्बाब्वे, सिंगापुर, इजरायल, हांगकांग और ब्रिटेन समेत यूरोप के कुछ देशों से आने वाले यात्रियों को अतिरिक्त सुरक्षा मानकों का पालन करना होगा।

इससे पहले यूरोपीय देश ऑस्ट्रिया, फ्रांस, इटली, नीदरलैंड और माल्टा ने उन पर्यटकों पर बैन लगाया है जो पिछले दो हफ्तों में दक्षिण अफ्रीका, लेसोथो, बोत्सवाना, जिम्बाब्वे, मोजाम्बिक, नामीबिया और इस्वातिनी गए थे। जर्मनी ने शुक्रवार रात से दक्षिण अफ्रीका को वायरस वैरिएंट एरिया घोषित कर दिया है। यहां से आनी वाली एयरलाइंस को सिर्फ इसलिए एंट्री मिलेगी, ताकि जर्मनी के निवासी वापस आ सकें।

दुनियाभर में इस महामारी से अब तक 26,07, 59, 348 लोग प्रभावित हुए हैं तथा 51,91,575 लोगों की हुई है। अमेरिका की जॉन हापकिंस यूनिवर्सिटी की रिपोर्ट के मुताबिक अमेरिका में 4,81,77,954 लोग अब तक इस विषाणु की चपेट में आए हैं, जबकि 776349 लोगों की मौत हुई है। ब्राजील में अब तक इससे 22067630 लोग संक्रमित हुए हैं तथा 613,957 लोगों की मौत हुई है।

देश में शुक्रवार देर रात तक कोरोना के 8318 नए मामले दर्ज करने के साथ संक्रमितों की कुल संख्या बढ़कर तीन करोड़ 45 लाख 63 हजार 749 हो गई है। इस दौरान 10967 मरीजों के स्वस्थ होने के साथ ही महामारी को मात देने वालों की संख्या बढ़कर तीन करोड़ 39 लाख 88 हजार 797 हो गई है, वहीं पिछले 24 घंटों में 10967 मरीजों के स्वस्थ होने के साथ ही महामारी को मात देने वालों की संख्या बढ़कर तीन करोड़ 39 लाख 88 हजार 797 हो गई है।

इस अवधि में सक्रिय मामलों में 3114 कमी देखी गई और कुल सक्रिय मामलों की संख्या घटकर 107019 रह गई है। इस अवधि में जानलेवा वायरस के संक्रमण से 465 और मरीजों की मौत होने से मृतकों का आंकड़ा बढ़कर चार लाख 67 हजार 933 हो गया है। रूस में कोविड-19 से अब तक 93.70 लाख से ज्यादा लोग प्रभावित हुए हैं तथा 266337 लोगों की मौत हुई है। वहीं ब्रिटेन में कोरोना से अब तक 1.01 करोड़ से ज्यादा लोग प्रभावित हुए हैं तथा 145036 लोगों की मौत हुई है।

रूस में भी बढ़े मामले : रूस में पिछले 24 घंटों में कोरोनावायरस के 33,946 नए मामले सामने आए, जिससे संक्रमितों की संख्या बढ़कर 9,536,825 हो गई है तथा 1239 लोगों की मौत हुई है। केंद्र ने बताया कि पिछले 24 घंटों में रूस के 85 क्षेत्रों में कोविड-19 के 33,946 मामलों की पुष्टि की गई है।

इनमें 2,269 बिना लक्षणों वाले मामले (6.7 प्रतिशत) शामिल हैं। मॉस्को में संक्रमण के 3,430 नए मामले दर्ज किए गए। इसके बाद सेंट पीटर्सबर्ग में 1,879 और मॉस्को क्षेत्र में 1,867 नए मामले दर्ज किए गए।

प्रतिक्रिया केंद्र ने बताया कि पिछले 24 घंटों के दौरान कोरोनावायरस संक्रमण से 1,239 लोगों की मौत हुई है, जिससे मृतकों की संख्या 2,71,531 हो गई। इस दौरान 36,494 रोगियों को देशभर के अस्पतालों से छुट्टी दे दी गई, जिससे स्वस्थ होने वालों की संख्या बढ़कर 82,37,465 हो गई है।(एजेंसियां)



और भी पढ़ें :