पत्रकारिता व जनसंचार में अनंत संभावनाएं हैं : Expert Advice


मीडिया डिग्री आत्मनिर्भर बनाती है : डॉ. सुशील कुमार शर्मा

ढेरों संभावनाएं हैं पत्रकारिता व जनसंचार में

12 वीं के बाद छात्रों में अपने भविष्य को लेकर उत्सुकता रहती है कि स्नातक क़े लिए कौन सा कोर्स चुनें जिसमें नौकरी क़े ढेर अवसर हों तथा अपना खुद का व्यवसाय करने क़े भी मौके हों। कोई ऐसा करियर जिससे भविष्य में अच्छी आय पद व् प्रतिष्ठा की प्राप्ति हो तथा समाज क़े लिए भी कुछ सकारात्मक कार्य किए जा सके।

अगर आप अपने जीवन में करियर क़े साथ देश क़े विकास में भी अपना योगदान करना चाहते हैं तो आपक़े लिए क़े विभिन्न पाठ्यक्रमों में कई ऑप्शंस हैं। यह कोर्सेज पूरी तरह से व्यावसायिक कोर्सेज होते हैं - इनमें सिखाई गई व्यावसायिक विधाओं को सीख कर निपुण होने वाले छात्रों को नौकरी मिलने की पूरी संभावनाएं होती है तथा निपुण विद्यार्थी अगर चाहें तो अपना खुद का व्यवसाय भी कर सकते हैं और दूसरों को भी नौकरी दे सकते हैं..इस प्रकार वे देश क़े आर्थिक विकास में भी महत्वपूर्ण योगदान दे सकते हैं।

पत्रकारिता व जनसंचार क़े कोर्सेज अंतर्गत मुख्यतः 6 व्यवसायों से सम्बंधित विधाएं (स्किल्स) सिखाई जाती हैं-

1.प्रिंट मीडिया (Newspapers & Magazines) 2. इलेक्ट्रॉनिक मीडिया (TV & Radio)
3. डिजिटल मीडिया मैनेजमेंट (Digital Media Management)
4. पब्लिक रिलेशन्स & कॉर्पोरेट कम्युनिकेशन्स (Public relations & Corporate Communication)
5. डिजिटल फिल्म मेकिंग (Digital Film Making)6. मल्टीमीडिया, ग्राफ़िक डिजाइनिंग & एनीमेशन (Multimedia, Graphics & Animation)



1. प्रिंट मीडिया (Newspapers & Magazines) से सम्बंधित कोर्सेज करने क़े बाद छात्रों को रिपोर्टर सब एडिटर कैमरामेन, कंटेंट राइटर, प्रूफ-रीडर इत्यादि की जॉब आसानी से मिल जाती है - इसके अलावा अगर आपके पास पैसा है और इच्छाशक्ति है तो आप अपने खुद का मीडिया पब्लिशिंग हाउस भी शुरू कर सकते हैं और दूसरों को भी रोजगार दे सकते हैं।

2. इलेक्ट्रॉनिक मीडिया (टीवी & रेडियो ) से रिलेटेड कोर्सेज करने क़े बाद छात्रों को टीवी चैनल्स एंड रेडियो स्टेशंस में रेडियो अनाउंसर, एंकर, रिपोर्टर, एडिटर, प्रोग्राम प्रोडूसर, न्यूज़ रूम मैनेजर, स्टूडियो इंचार्ज, फोटोग्राफर \ वीडियो ग्राफर इत्यादि की अच्छी जॉब मिल जाती है

अगर आप कुछ बड़ा करना चाहते हैं और आपके पास प्रोफेशनल्स की एक टीम है और पर्याप्त पैसा है तो आप अपने खुद का टीवी चैनल (यूट्यूब चैनल) या कम्युनिटी रेडियो शुरू करके दूसरों को भी रोजगार दे सकते हैं।

3. पब्लिक रिलेशन्स & कॉर्पोरेट कम्युनिकेशन्स (Public Relations & Corporate Communications) पब्लिक रिलेशन्स & कॉर्पोरेट कम्युनिकेशन्स -जनसंचार का एक ऐसा क्षेत्र हैं जिसकी कॉर्पोरेट सेक्टर में बहुत अधिक मांग है। लगभग हर बड़ी कंपनी में पब्लिक रिलेशन्स डिपार्टमेंट या एक जनसम्पर्क अधिकारी होता है जो आर्गेनाईजेशन की इमेज बिल्डिंग इवेंट्स मैनेजमेंट & कॉर्पोरेट कम्युनिकेशन्स को हैंडल करता है।

कॉर्पोरेट्स अपने स्टॉक होल्डर्स क़े बीच में अपनी पॉजिटिव इमेज बनाने एवं सकारात्मक संचार करने क़े लिए विभिन्न योजनाएं एवं कम्पैन चलाते हैं।

-इसमें पत्र पत्रिकाओं का प्रकाशन, एडवरटाइजिंग कैम्पैन्स, कॉर्पोरेट सोशल रेस्पॉन्सिबिलिटीज़ (Social Corporate Resonsibilites) क़े तहत चलने वाली परियोजनाएं, सरकारी एवं गैर सरकारी समूहों क़े साथ संवाद स्थापित करके समाज में अपनी सकारात्मक इमेज को प्रमोट करना आदि शामिल हैं।

इस क्षेत्र में रोजगार क़े अनेक अवसर उपलब्ध हैं और स्टार्टअप क़े इच्छुक छात्रों क़े लिए यह खुद क़े व्यवसाय का एक बेहतरीन मौका है - जहां वे अपने साथ-साथ दूसरों को भी नौकरी दे सकते हैं।


4. डिजिटल फिल्ममेकिंग (Digital Film Making) - इंटरनेट की बढ़ती उपलब्धता एवं स्मार्ट फ़ोन क़े बढ़ते इस्तेमाल क़े चलते आजकल यूटूबर्स की मांग तेजी से बढ़ी है। यूट्यूब पर क्वालिटी कंटेंट उपलब्ध न होने कारण इन दिनों डिजिटल फिल्ममेकिंग का बहुत अधिक स्कोप है। डिजिटल फ़िल्म मैकिंग को सीखकर छात्र न केवल अच्छे पैसे कमा सकते हैं, बल्कि खुद को डिजिटल वर्ल्ड में एक्सपर्ट क़े रूप स्थापित भी कर सकते हैं।

इस इंडस्ट्री में स्क्रिप्ट राइटर, रिसर्चर, कैमरामैन, फिल्म डायरेक्टर, वीडियो एडिटर, साउंड रिकार्डिस्ट, मार्केटिंग प्रोफेशनल इत्यादि की बहुत मांग है।

5. मल्टीमीडिया ग्राफ़िक्स & एनिमेशन्स (Graphics & Animation) किसी भी कंटेंट को ज्यादा प्रभावी बनाने क़े लिए आजकल मल्टीमीडिया, ग्राफ़िक्स & एनिमेशन्स का इस्तेमाल बहुत ज्यादा होने लगा है..विशेषकर न्यूज़, एजुकेशन, म्यूजिक एंड एंटरटेनमेंट इंडस्ट्री में मल्टीमीडिया एंड ग्राफ़िक्स एंड एनीमेशन क़े विशेषज्ञों की अत्यधिक मांग है। एनिमेटेड मूवीज, कार्टून फिल्म्स एंड वीडियो गेमिंग की बढ़ती मांग की वजह से मल्टीमीडिया ग्राफ़िक्स & एनिमेशन्स प्रोफेशनल्स की जबरदस्त डिमांड है।

6. डिजिटल मीडिया मैनेजमेंट (Digital Media Management) : इंटरनेट की उपलब्धता और डिजिटल टेक्नोलॉजी में होने वाले नित नए अविष्कारों ने संचार की दुनिया में कई क्रांतिकारी परिवर्तन किए हैं -जिसकी वजह से डिजिटल मीडिया मैनेजमेंट में रोज नए नए अवसर पैदा हो रहे हैं। जनसंचार क़े सभी माध्यम अब डिजिटल प्लेटफार्म (फेसबुक \ इस्टाग्राम\ ट्विटर \ लिंकेडिन \ व्हाट्सप्प) पर उपलब्ध होने की वजह से इस क्षेत्र में काम करने वाले विशेषज्ञों की मांग बहुत बढ़ गई है। इसके अतिरिक्त आजकल हर आर्गेनाईजेशन \ बिज़नेस हाउस की अपनी वेबसाइट होती है जिसके लिए वह डिजिटल मीडिया मैनेजर्स की सेवाएं लेते हैं।


अपना खुद का कारोबार करने क़े इच्छुक छात्रों क़े लिए इस क्षेत्र में अपने व्यवसाय करने क़े अनंत अवसर मौजूद हैं…

जरुरी योग्यता : इसके लिए सबसे खास योग्यता है -आपमें आत्मविश्वास होना चाहिए। समाज में सकारात्मक बदलाव लाने का जज्बा होना चाहिए और आपके भीतर कुछ कर गुजरने की तमन्ना होनी चाहिए। अच्छी भाषा और कुशल अभिव्यक्ति होना चाहिए। साथ ही साथ 12वीं कक्षा पास होना चाहिए।

इस विषय में ज्यादा जानकारी लेने क़े लिए आप लेखक से संपर्क कर सकते हैं।

ईमेल: dr.ssharma011@gmail.com



और भी पढ़ें :