वलिमै फिल्म समीक्षा: लंबाई ज्यादा, लॉजिक कम और ओवर द टॉप एक्शन

Last Updated: शनिवार, 26 फ़रवरी 2022 (13:45 IST)
हमें फॉलो करें
ड्रग माफिया के खिलाफ ईमानदार पुलिस ऑफिसर की कहानी भारतीय सिनेमा में कई बार दोहराई जा चुकी है और तमिल फिल्म '‍वलिमै' में भी यही कहानी नजर आती है जिसे डब कर हिंदी में रिलीज किया गया है। कहानी को थोड़ा अलग बनाने के लिए इसमें खतरनाक बाइकर्स को जोड़ा गया है जो अपने अपराध को खतरनाक तरीके से अंजाम देते हैं। इंटरनेट का इस्तेमाल करते हैं। अब इस बात को इतना टेक्नीकल बना दिया गया है कि जिस आम दर्शक के लिए यह फिल्म बनाई गई है उसे यह बात पल्ले ही नहीं पड़ती। 
स्क्रीनप्ले राइटर्स ने रूटीन कहानी में कुछ चौंकाने वाले टर्न्स और ट्विस्ट्स डाले हैं जो कहीं-कहीं चौंकाते हैं। फैमिली ड्रामा और एक्शन ड्रामा में संतुलन बनाने की कोशिश की गई है, लेकिन दर्शकों की उत्सुकता एक्शन को लेकर है। माना कि मसाला फिल्मों में लॉजिक नहीं ढूंढना चाहिए, लेकिन कुछ ऐसी बातें हैं जिन्हें पचाया ही नहीं जा सकता और यह बात फिल्म देखते समय मजा किरकिरा कर देती है।  
 
एक्शन इतने ओवर द टॉप हैं कि दर्शकों को मजा नहीं आता। मोटरबाइक हवा में इतनी उड़ाई गई है कि एक्शन सीन अपना प्रभाव खो देते हैं। साथ ही यह एक्शन सीन जरूरत से ज्यादा लंबे हैं। फिल्म को बेवजह बहुत ज्यादा खींचा गया है। कम से कम आधा घंटे इसे आसानी से छोटा किया जा सकता है। कई दृश्य इतने लंबे हैं कि बोरियत होने लगती है। 
 
एच. विनोद निर्देशक के रूप में खास प्रभावित नहीं करते। उनका प्रस्तुतिकरण दमदार नहीं है। कहने को तो यह मसाला फिल्म है, लेकिन रोमांस और कॉमेडी गायब है। एक्शन सीन भी ऐसे हैं जो मजा नहीं देते। 
 
हीरोगिरी करने की उम्र पार कर गए हैं। वे फिट भी नहीं लगते, जिससे एक्शन सीन विश्वसनीय नहीं बन पाए। एक्टिंग भी उनकी ठीक-ठाक है। हुमा कुरैशी, कार्तिकेय घोमरकोंडा, राज अयप्पा, सेल्वा, अपनी एक्टिंग से प्रभावित करते हैं। इल्या बोयको की सिनेमाटोग्राफी शानदार है। एक्शन सीन अच्छे कोरियोग्राफ किए गए हैं, लेकिन अतिरेक से बचा जाना चाहिए था। 
 
कुल मिलाकर वलिमै दक्षिण भारत की ऐसी फिल्म है जो हिंदी भाषी दर्शकों को पसंद नहीं आएगी।  
  • निर्माता: बोनी कपूर, ज़ी स्टूडियोज़
  • निर्देशक : एच. विनोद
  • कलाकार : अजीत कुमार, हुमा कुरैशी, कार्तिकेय घोमरकोंडा, सेल्वा
  • सेंसर सर्टिफिकेट : यूए * 2 घंटे 58 मिनट 
  • रेटिंग : 1.5/5  



और भी पढ़ें :