ऑस्कर 2022 : ट्रॉय कोत्सुर ने जीता सर्वश्रेष्ठ सहायक अभिनेता का अवॉर्ड, बने ऑस्कर जीतने वाले दूसरे बधिर अभिनेता

Last Updated: सोमवार, 28 मार्च 2022 (11:04 IST)
हमें फॉलो करें
94वें अकादमी अवॉर्ड्स का आयोजन इस साल अमेरिका के लॉस एंजिल्स के डॉल्बी थिएयर में किया गया। इस अवॉर्ड्स शो में कई सेलेब्स ने रेड कार्पेट पर अपना जलवा बिखेरा। 'कोडा' को बेस्ट फिल्म के लिए ऑस्कर अवॉर्ड से सम्मानित किया गया।

हॉलीवुड एक्टर विल स्मिथ ने बेस्ट एक्टर का अवॉर्ड अपने नाम किया। वहीं कोत्सुर को सर्वश्रेष्ठ सहायक अभिनेता का पुरस्कार मिला। वह ऑस्कर जीतने वाले दूसरे बधिर अभिनेता बने हैं।

कोत्सुर की सह-कलाकार रहीं मार्ली मैटलिन ने 35 साल से अधिक समय पहले 'चिल्ड्रन ऑफ ए लेसर गॉड' (1986) के लिए मुख्य अभिनेत्री का ऑस्कर जीता था। वह ऑस्कर जीतने वाली पहली बधिर कलाकार हैं।

कोत्सुर ने अपनी जीत को बधिर, दिव्यांग और ‘कोडा’ समुदाय को समर्पित की। भावुक कोत्सुर ने अमेरिकी सांकेतिक भाषा (एएसएल) के एक दुभाषिए के माध्यम से अपने संबोधन में कहा, यहां होना आश्चर्यजनक है। मुझे विश्वास नहीं हो रहा कि मैं यहां हूं। मेरे काम को मान्यता देने के लिए अकादमी को धन्यवाद।
अभिनेता ने कहा कि उन्हें बेहद खुशी है कि उनकी फिल्म 'कोडा' दुनिया भर में देखी गई। उन्होंने कहा, यह व्हाइट हाउस तक भी पहुंच गई, जिसने कोडा के कलाकारों को व्हाइट हाउस आने और उसका दौरा करने के लिए आमंत्रित किया। 'कोडा' के निर्देशक सियान हेडर बधिरों की दुनिया और सुनने में सक्षम लोगों की दुनिया को एक साथ लेकर आए। अभिनेता ने उनका निरंतर समर्थन करने के लिए अपने परिवार को धन्यवाद दिया।
उन्होंने कहा, मेरे गृहनगर मेसा, एरिजोना में मेरे सबसे बड़े प्रशंसकों मेरी पत्नी और मेरी बेटी कायरा को धन्यवाद। मार्क फिनले, मेरे प्रबंधक और हमारी टीम... मेरी मां, मेरे पिताजी और मेरे भाई मार्क, यह हम सबका क्षण है। मैंने कर दिखाया। मैं आपसे प्यार करता हूं। धन्यवाद।

'कोडा' यानी ‘चाइल्ड ऑफ डेफ अडल्ट्स’ (बधिर वयस्कों का बच्चा) फिल्म एक बधिर परिवार की दिल को छू लेने वाली कहानी है। यह 2014 की फ्रांसीसी फीचर फिल्म 'ला फैमिले बेलियर' की रीमेक है। यह फिल्म अन्य हॉलीवुड फिल्मों की तरह ही प्यार, नाटकीयता और हास्य को समेटे हुए है, लेकिन यह ज्यादातर एएसएल के माध्यम से दर्शकों तक अपनी बात पहुंचाती है।



और भी पढ़ें :