किशोर कुमार ने गाने की रिकॉडिंग के लिए खुद सत्यजीत रे को बुलाया था मुंबई, 57 साल बाद वह खत आया सामने

Last Updated: बुधवार, 6 मई 2020 (16:40 IST)
हमें फॉलो करें
भारतीय सिनेमा के दिग्गज फिल्म निर्माता सत्यजीत रे को 1963 में लोकप्रिय गायक ने एक पत्र लिखा था। यह पत्र रे के बेटे और फिल्म निर्माता संदीप रे को बंद के दौरान पिता के कमरे में पड़ी पुराने कागजात उलटते-पलटते मिला है। रे का घर कोलकाता में बिशप लेफ्रो रोड पर स्थित है।


इस पत्र में गायक रे को यह बता रहे हैं कि वह एक गाने की रिकॉर्डिंग के लिए मुंबई से कोलकाता नहीं आ पाएंगे क्योंकि वह एक फिल्म की शूटिंग में काफी व्यस्त हैं। रे उन दिनों ‘चारूलता’ की शूटिंग कर रहे थे जो रबींद्रनाथ टैगोर के उपन्यास ‘नष्टनीड़’ पर बनी थी और इसी फिल्म के गाने की बात हो रही थी।




रे को ‘मणिक मामा’ संबोधित करते हुए कुमार ने कहा, “आपके निर्देशन में आपकी फिल्म में गाना मेरे लिए बेहद सौभाग्य की बात है। आपने मुझे कलकत्ता आने के लिए कहा है लेकिन मैं आने में असमर्थ हूं। निकट भविष्य में मैं समय नहीं निकाल पाऊंगा क्योंकि इस महीने (नवंबर 1963) लगभग हर दिन मैं शूटिंग कर रहा हूं।”

कुमार ने लिखा, “साथ ही, मेरी मां भी बुहत बीमार है और वह हाल ही में हरिद्वार से लौटी है, करीब एक सप्ताह पहले। डॉक्टरों की सलाह के अनुसार उन्हें अकेला छोड़ना अभी सही नहीं होगा।” कुमार ने रे और उनकी पत्नी को ही मुंबई बुलाते हुए कहा था कि वह सभी इंतजाम कर देंगे और रिकॉर्डिंग बिना किसी परेशानी के हो जाएगी।


किशोर कुमार के बेटे अमित कुमार (खुद भी पार्श्व गायक) ने सोमवार को एक वर्चुअल संवाददाता सम्मेलन में कहा कि रे दिसंबर में मुंबई आने के लिए तैयार हो गए थे और बाद में गाना भी रिकॉर्ड हुआ था। उन्होंने यह भी बताया कि दोनों परिवार दूर के रिश्तेदार भी हैं।

अमित कुमार ने कहा कि उन्होंने संदीप रे को फोन किया। वह बंद के दौरान अपने पिता के कमरे में पड़े डिब्बों को उलट-पुलट रहे थे और उसी दौरान यह यादगार पत्र मिला। गाना ‘आमी चिनी गो चिनी’ इस फिल्म में है। संदीप रे ने बताया कि इस दौरान उन्होंने फिल्मों के अनदेखे निगेटिव भी निकाले हैं। वहीं दिग्गज फिल्म निर्देशक अकीरा कुरोशोवा और रिचर्ड एटनबरो के पत्र भी मिले हैं। (भाषा)



और भी पढ़ें :