'बच्चन पांडे' बनना अक्षय कुमार के लिए था काफी मुश्किल, नकली आंख लगाने में होती थी इतनी परेशानी

पुनः संशोधित रविवार, 20 मार्च 2022 (14:37 IST)
हमें फॉलो करें
बॉलीवुड एक्टर की फिल्म 'बच्चन पांडे' होली के मौके पर सिनेमाघरों में रिलीज हो चुकी है। इस फिल्म में अक्षय कुमार खतरनाक गैंगस्टर के रोल में नजर आ रहे हैं। फिल्म में अक्षय का लुक काफी डरावना है। फिल्म में उनके किरदार की एक पत्थर की आंख है।

बच्चन पांडे बनने के लिए अक्षय ने आई लेंस का इस्तेमाल किया है। आई लेंस का इस्तेमाल करने में अक्षय कुमार को काफी मुश्किल होती थी। अक्षय से जब पूछा गया कि इस फिल्म में सबसे ज्यादा मुश्किल सीन उनके लिए कौनसा था? तो एक्टर ने कहा कि आंखों में जब आई लेंस लगाया जाता था वो काफी मुश्किल भरा था।

अक्षय ने कहा, वो लेंस इतना बड़ा था कि मैं उसे खुद लगा ही नहीं पाता था। जान निकल जाती थी। सब धुंधला दिखता था और ऐसे ही मैं शूट करता था। पहले दिन 15 मिनट मुझे लगे और फिर मुझे 2-3 मिनट ही लगे। हमने मेरा लुक कई फोटोशूट के बाद फाइनल किया था और 3 दिन के फोटोशूट के बाद इसे हमने फाइनल किया।
अक्षय कुमार ने एक इंटरव्यू के दौरान यह भी बताया कि उनकी फिल्म का नाम बच्चन पांडे कैसे रखा गया? एक्टर ने कहा, फिल्म में मेरे किरदार का नाम मेरी एक पुरानी फिल्म टशन से लिया है। उस फिल्म में ये नाम काफी पॉपुलर हुआ। इसलिए हमने टशन के डायरेक्टर से परमिशन ली और ये नाम इस फिल्म में रखा। ये फिल्म यूपी के एक गैंगस्टर की है इसलिए ये नाम इस किरदार पर शूट भी करता है।
बता दें कि 'बच्चन पांडे' तमिल फिल्म 'जिगरठंडा' का रीमेक है जो खुद कोरियन फिल्म 'ए डर्टी कार्निवल' का रीमेक थी। फिल्म में अक्षय कुमार के साथ कृति सेनन, पंकज त्रिपाठी और अरशद वारसी है। फिल्म का निर्देशन फरहाद सामजी ने किया है।



और भी पढ़ें :