नो टाइम टू डाय से लेकर डॉक्टर नो तक : जानिए 60 वर्षों में बनीं 25 जेम्स बॉन्ड सीरिज की सभी फिल्मों के बारे में

नो टाइम टू डाय जेम्स बांड सीरिज की 25 वीं फिल्म है। 1962 में बनी डॉक्टर नो से शुरुआत हुई थी। इतने सालों के बाद भी जेम्स बॉन्ड की लोकप्रियता में रत्ती भर भी कमी नहीं आई है।

21) कसीनो रोयाल (2006)
कसीनो रोयाल बांड सीरिज की इक्कीसवी फिल्म थी जिसमें ने पियर्स ब्रॉसनन का स्थान ले लिया था। एक बार फिर फिल्म फ्लेमिंग के इसी नाम के उपन्यास पर आधारित थी। कसीनो रोयाल बांड के शुरूआती दौर पर आधारित है जिसमें बांड हत्याओं के लिए लायसेंस लेने के दौर में है। माएमी इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर एक आतंकवादी हमले को नाकाम करने के बाद, बांड को वेस्पर लायंड से मोहब्बत हो जाती है। वेस्पर लायंड पर बांड को धन मुहैया कराने की जिम्मेदारी है जिसके साथ पोकर खेलकर बांड आतंकवादियों को पैसा देने वाले के आदमी ले शिफ्रे को बैंकरप्ट कर सके। फिल्म में बहुत से बदलाव किए गए थे जिसमें बांड नया था पर अधिक कारगर था। समीक्षकों द्वारा फिल्म बहुत पसंद की गई और क्रेग को उनके रोल में जबरदस्त तारीफ मिली। फिल्म की कमाई बॉक्स ऑफिस 599 मिलियन डॉलर थी।
 
22) क्वाटंम ऑफ सोलेस (2008)
क्वाटंम ऑफ सोलेस बांड सीरिज की बाइसवीं फिल्म थी जिसमें डेनियल क्रेग दूसरी बार के रूप में नजर आए। इस फिल्म में बांड अपनी प्रेमिका वेस्पर लायंड की मौत का बदला लेने निकलता है जिसमें उसका साथ कैमाइल मोंटेस देती है। वह अपने परिवार की हत्या का बदला लेने की योजना बना रही है। बांड धनी बिजनेसमैन डॉमिनिक ग्रीन के पास पहंच जाता है जो क्वाटंम का सदस्य है। यह बोलिविया में पानी की सप्लाय पर नियंत्रण की योजना बना रहा है। फिल्म जबरदस्त हिंसा से भरी हुई थी और बांड सीरिज की सबसे अधिक मारधाड़ वाली फिल्म बनी। यह एक सफल फिल्म थी जिसने बॉक्स ऑफिस पर 586 मिलियन डॉलर की कमाई की।
 
जेम्स बांड सीरिज की तेइसवी फिल्म स्कायफॉल थी जिसमें डेनियल क्रेग ने तीसरी बार जेम्स बांड का किरदार निभाया। फिल्म की कहानी के अनुसार, जैम्स बांड एमआई6 पर हुए एक हमले की जांच कर रहा है। यह हमला एमआई6 की पूर्व एजेंट राउल सिल्वा की योजना का हिस्सा है। वह एम को उसके साथ धोखा देने के बदले में मरवाना चाहती है। फिल्म की इसके प्रीमियर के बाद अमेरिका और ब्रिटेन में जबरदस्त तारीफ हुई। फिल्म समीक्षकों द्वारा भी पसंद की गई। इसने बॉक्स ऑफिस पर 1000 मिलियन डॉलर की कमाई की। फिल्म को दो बाफ्टा, दो एकेडमी और दो ग्रेमी अवॉर्ड मिले।
 
बांड सीरिज की चौबीसवीं फिल्म स्पेक्टर है जिसमें डेनियल क्रेग एक बार फिर जेम्स बांड बने हैं। फिल्म में जेम्स बांड का सामना वैश्विक  अपराधी संस्था स्पेक्टर के साथ है। फिल्म में बहुत से पुराने अहम किरदार एक बार फिर नजर आते हैं। फिल्म को इसकी लंबाई और लेखन को लेकर मिक्स रिव्यू मिले परंतु यह दर्शकों द्वारा पसंद की गई है। 'स्पेक्टर' में नया कुछ नहीं पेश करते हुए यह फिल्म जेम्स बांड के चिर-परिचित अंदाज या कहें कि इस सीरिज के फैंस को ध्यान में रखकर बनाई गई थी जो जेम्स बांड की हर फिल्म में उसका वही अंदाज देखना पसंद करते हैं। कार, चेज़िंग, स्टंट्स, वूमैन और वाइन इस फिल्म की भी खासियत थी, लेकिन कहानी के मामले में यह फिल्म थोड़ी कमजोर साबित होती है। फिल्म ने वर्ल्डवाइड 880.7 मिलियन डॉलर का बिजनेस किया। 
 
जेम्स बांड सीरिज की 25वीं फिल्म 'नो टाइम टू डाय' में डेनियल क्रेग ने ही जेम्स बांड का किरदार निभाया है। क्रेग का कहना है कि वे पांचवीं और अंतिम बार जेम्स बांड का किरदार निभा रहे हैं। फिल्म का प्रोडक्शन इयान फिल्म ने किया है। लगभग 300 मिलियन डॉलर के बजट में तैयार इस फिल्म की रिलीज कोविड-19 के कारण अटकी रही। फिल्म में दिखाया गया है कि अर्न्स्ट स्टावरो ब्लोफेल्ड के कब्जे के पांच साल बाद, ने सक्रिय सेवा छोड़ दी है। उनके दोस्त और सीआईए अधिकारी फेलिक्स लीटर ने उनसे संपर्क किया, जो एक लापता वैज्ञानिक वाल्डो ओब्रुचेव की खोज में मदद चाहते हैं। जब यह स्पष्ट हो जाता है कि ओब्रुचेव का अपहरण कर लिया गया है, तो बॉन्ड को एक ऐसे खलनायक का सामना करना होगा जिसकी योजनाओं से लाखों लोगों की मौत हो सकती है।



और भी पढ़ें :