'एस्केप लाइव' को अपने द्वारा पढ़ी गई कुछ बेस्ट स्क्रिप्ट्स में से एक मानती हैं श्वेता त्रिपाठी शर्मा

पुनः संशोधित शनिवार, 7 मई 2022 (13:02 IST)
हमें फॉलो करें
एक प्रभावशाली कहानी का हिस्सा बनना हर एक्टर का सपना होता है, लेकिन यह अवसर कम ही मिलता है। ऐसे में डिज़्नी प्लस हॉटस्टार की आगामी सोशल थ्रिलर 'एस्केप लाइव' में सुनैना की भूमिका में दिखाई देने वाली श्वेता त्रिपाठी शर्मा खुद को लकी मानती है कि इस सीरीज के जरिए उन्हें इस तरह का मौका मिला क्योंकि यह एक ऐसी सीरीज़ है जिसकी पूरी कहानी उन्हें पसंद आई है।


साथ ही श्वेता ने शो के उन विभिन्न तत्वों के बारे भी बताया जो उन्हें स्क्रिप्ट में पसंद आई। श्वेता कहती हैं, आप जानते हैं कि के बारे में खास बात यह है कि यह सबसे अच्छी स्क्रिप्ट में से एक है जिसे मैंने कहानी के संदर्भ में, कंटेंट के संदर्भ में पढ़ा है, क्योंकि यह आज के समय से बहुत मिलता जुलता है और आप कोई दूसरा शो लीजिए, जिसके बारे में किसी ने कभी बात नहीं की है।
उन्होंने कहा, जैसे कि एक एप जो सचमुच लोगों के सपनों, लोगों के जीवन, लोगों की आकांक्षाओं को बदल सकता है और साथ ही किस तरह से चीजें सही या गलत हो सकती हैं। आखिर में आपको वह संतुलन क्या है वह जानने की जरूरत है, क्योंकि लोग कुछ न कुछ कहेंगे और आपसे मांग करेंगे, लेकिन उसका कंट्रोल आपके दिमाग में है और यह भी कि सोशल मीडिया आपको जो शक्ति देता है, वह अपने सिर में नहीं जानी चाहिए।
उन्होंने आगे कहा, मुझे लगता है कि इस पूरी कहानी के साथ कोई क्या कहना चाह रहा है? वह सबसे शानदार है। एक लड़की है जो तेजी से बढ़ना चाहती है, एक लड़का है जो अपनी प्रतिभा दिखाना चाहता है। एक लड़की है जो अपने बालों को कलर करना चाहती है, ऐसे लोग हैं जो लोकप्रिय और प्रसिद्ध हैं और जिन्हें हमेशा लगता है कि आपकी लोकप्रियता को बाकी दूसरे लोगों से खतरा है।

श्वेता ने कहा, वह एक फेटिश गर्ल है, जो एक दोहरी जिंदगी जी रही है, ऑन-स्क्रीन और ऑफ-स्क्रीन और तमाम अलग-अलग कहानियों के साथ। मैंने कुछ एपिसोड देखे हैं और आप सोचते रहेंगे कि अब क्या होगा, इसलिए मुझे लगता है कि दर्शकों को एस्केप लाइफ बहुत पसंद आने वाली है।

एस्केप लाइव एक काल्पनिक कहानी है, जिसे जया मिश्रा और सिद्धार्थ कुमार तिवारी द्वारा बेहद खूबसूरती से लिखा गया है। कहानी में कंटेंट क्रिएटर्स का एक समूह है, जिसके अलग-अलग रास्ते हैं, लेकिन लक्ष्य एक है - वो भी वायरल कंटेंट का प्रोड्यूस करना, जो देश में सबसे नए ऐप एस्केप लाइव द्वारा घोषित एक जीवन-बदलती वाली हो। सिद्धार्थ कुमार तिवारी के वन लाइफ स्टूडियोज के तहत निर्मित, 9 -एपिसोडिक वाली सीरीज प्रतिस्पर्धात्मक होने की इंसानी फितरत और सफल होने की उनकी जिज्ञासा अभियान पर जोर देती है।

इस सीरीज में बहुत ही टैलेंटेड कलाकारों की कास्ट है, जिसमें सिद्धार्थ, जावेद जाफ़री, श्वेता त्रिपाठी शर्मा, स्वास्तिका मुखर्जी, प्लाबिता बोरठाकुर, वलूचा डी सूजा, ऋत्विक साहोरे, सुमेध मुदगलकर, गीतिका विद्या ओहल्यान, जगजीत संधू, रोहित चंदेल और बाल कलाकार आद्य शर्मा शामिल हैं।

सीरीज का सार उस लंबाई की पड़ताल करता है जब सामग्री निर्माता और तकनीकी दिग्गज अपनी आकांक्षाओं को पाने के लिए यात्रा करने के मन बनाते हैं। भारत के अलग-अलग शहरों में स्थापित, सीरीज ने रीजनल ऑथेंटिसिटी को जोड़ने के लिए हर एक शहर के लिए अलग-अलग संवाद लेखकों का फायदा उठाया है। जैसलमेर में स्थित डांस रानी की कहानी में उनके संवाद विनोद शर्मा द्वारा लिखे गए हैं, जबकि आमचा की पंक्तियों को अमोल सुर्वे ने लिखा है। ठीक उसी तरह से मीनाकुमारी और सुनैना के संवादों के बनारस-आधारित किरदार रणवीर प्रताप सिंह द्वारा लिखे गए हैं, जबकि डार्की और फेस्टिश गर्ल के संवाद जया मिश्रा और सिद्धार्थ कुमार तिवारी द्वारा लिखे गए हैं।



और भी पढ़ें :