दबंग का चुलबुल, देसी रॉबिनहुड : सलमान खान

दबंग हिट साबित होगी

Dabangg
PR

वॉण्टेड का सीक्वल नहीं है
मुझसे बार-बार ये सवाल किया जाता है कि क्या ‘दबंग’ ‘वॉण्टेड’ का सीक्वल है? मैं ‘वॉण्टेड’ जैसी एक फिल्म क्यों करुँगा। ‘दबंग’ का किरदार तो एकदम हटकर है। जब मैंने शूटिंग आरंभ की तो मुझे चुलबुल पांडे समझ में ही नहीं आया। यह बहुत ही भावुक है, जो अगले पल ये कॉमेडी शुरू कर देता है और उसके बाद एक्शन। चुलबुल का अगला कदम क्या होगा ये कोई नहीं जानता। मैंने आज तक ऐसा रोल नहीं निभाया है।

मूँछों का रौब
उत्तर प्रदेश और बिहार में ज्यादातर लोग रखते हैं। वे इसे मर्दानगी का प्रतीक मानते हैं। इससे वे रफ, टफ और परिपक्व नजर आते हैं। मैं ‘वीर’ की शूटिंग खत्म कर लंबे बालों और क्लीन शेव में ‘दबंग’ के सेट पर पहुँचा। वहाँ ज्यादातर लोग मुझे मूँछ में नजर आए। मैंने चुलबुल के लिए मूँछे लगाईं। सोनाक्षी सिन्हा और विनोद खन्ना वहीं उपस्थित थे। दोनों ने कहा कि मूँछों में मैं अच्छा नजर आ रहा हूँ। मूँछों की वजह से ही चुलबुल का किरदार अलग और दमदार नजर आ रहा है।

देसी रॉबिनहुड
फिल्म में चुलबुल पांडे सोचता है कि वह अपने क्षेत्र का रॉबिनहुड है। वह अमीरों से पैसा लेकर गरीबों में बाँटता है। मस्तमौला किस्म का इंसान है। थोड़ा-सा पागल है, लेकिन किसी का बुरा नहीं चाहता। उसे मैं देसी रॉबिनहुड कहूँगा।

फैंस और मुझमें कोई अंतर नहीं

इस समय एक ही चर्चित फिल्म है ‘दबंग’। आइए जानें कि क्या कहते हैं चुलबुल पांडे उर्फ इस फिल्म के बारे में, सोनाक्षी के बारे में, मूँछों के बारे में।

मैं अपने प्रशंसकों जैसा ही हूँ। मेरे फैंस और दोस्त मेरे चमचे नहीं हैं जो मेरी हाँ में हाँ मिलाए। वे सच मेरे सामने कहते हैं। उन्हें यदि मेरा कोई रोल, फिल्म या ट्रेलर पसंद नहीं आते हैं तो वे स्पष्ट रूप से मुझे बता देते हैं। जब वे मेरी फिल्म का प्रोमो देख खुश होते हैं तो मैं समझ जाता हूँ कि वो फिल्म हिट होगी। ‘दबंग’ का प्रोमो मैंने घर पर दिखाया, फैंस को दिखाया तो सभी को पसंद आया। ‘वीर’ का प्रोमो भी सभी को अच्‍छा लगा था, लेकिन दुर्भाग्य से वो फिल्म चली नहीं। लेकिन ‘दबंग’ के बारे में मैं पूरी तरह आश्वस्त हूँ कि यह हिट साबित होगी।



और भी पढ़ें :