रुक्मणी अष्टमी के दिन करें कृष्ण की उपासना, पढ़ें 10 खास मंत्र, देंगे मनचाहा वरदान

Lord krishna mantra
रुक्मणी अष्टमी के दिन देवी रुक्मणी के साथ भगवान श्री कृष्ण का पूजन करके उनके मंत्रों का जाप अवश्य करना चाहिए। यहां पढ़ें श्री कृष्ण के सबसे अधिक 10 असरकारी मंत्र-

1. द्वापर युग में गोपियों ने किया था इस मंत्र का जाप- कात्यायनी महामाये महायोगिन्यधीश्वरी। नन्दगोपसुतं देवि पतिं मे कुरू ते नम:।।

2. गृह क्लेश दूर करने का मंत्र- कृष्णाय वासुदेवाय हरये परमात्मने। प्रणतक्लेशनाशाय गोविन्दाय नमो नम:॥

3. लव मै‍रिज- क्लीं कृष्णाय गोविंदाय गोपीजनवल्लभाय स्वाहा।'

4. धन वापस दिलाने वाला मंत्र- कृं कृष्णाय नमः।

5. स्थिर लक्ष्मी प्राप्ति का मंत्र- लीलादंड गोपीजनसंसक्तदोर्दण्ड बालरूप मेघश्याम भगवन विष्णो स्वाहा।

6. विद्या प्राप्ति का मंत्र- ॐ कृष्ण कृष्ण महाकृष्ण सर्वज्ञ त्वं प्रसीद मे। रमारमण विद्येश विद्यामाशु प्रयच्छ मे॥

7. धन प्राप्ति का मंत्र- गोवल्लभाय स्वाहा।

8. इच्छा पूर्ति मंत्र- 'गोकुल नाथाय नमः।

9. समस्त बाधा दूर करने वाला मंत्र- ॐ श्रीं ह्रीं क्लीं श्रीकृष्णाय गोविंदाय गोपीजन वल्लभाय श्रीं श्रीं श्री'।

10. वाणी में मधुरता लाने वाला मंत्र- ऐं क्लीं कृष्णाय ह्रीं गोविंदाय श्रीं गोपीजनवल्लभाय स्वाहा ह्र्सो।




और भी पढ़ें :