0

इस दीपावली पर करें ये 10 अचूक उपाय, धन के साथ सफलता भी आएगी साथ

गुरुवार,अक्टूबर 28, 2021
0
1
पुष्य नक्षत्र में कोई भी वस्तु बिना किसी मुहूर्त देखे खरीदी जा सकती है। राशि के अनुसार खरीदी सुख, संपत्ति, समृद्धि, संपन्नता, अपार धन, आरोग्य और सफलता के सुनहरे अवसर लेकर आती है।
1
2
2 नवंबर 2021 को बुध ग्रह सुबह 9:43 बजे कन्या राशि से निकलकर तुला राशि में गोचर करेंगे और 21 नवंबर को तुला राशि से वृश्चिक राशि में गोचर कर जाएंगे। बुध का संबंध बृहस्पति और चंद्रमा से है, इसलिए इसमें इन दोनों ग्रहों की विशेषताएं हैं। इसी दिन धनतेरस ...
2
3
Guru Pushya Nakshatra आज 28 अक्टूबर 2021 को गुरु पुष्य नक्षत्र है। इस दिन सोना, चांदी, बर्तन, कपड़े, जेवर, भूमि, भवन, वाहन, इलेक्ट्रॉनिक वस्तुएं आदि खरीदने के लिए शुभ योग है। Diwali 2021 दिवाली की तैयारी इस दिन से ज्यादा प्रभावशाली ढंग से शुरु हो ...
3
4
Guru Pushya Nakshatra Yoga 2021: इस बार 28 अक्टूबर 2021 गुरुवार को गुरु पुष्य ( Pushya Nakshatra 2021 ) का योग सुबह 09:41 से प्रारंभ होकर दूसरे दिन यानी 29 अक्टूबर, शुक्रवार की सुबह 11:38 तक रहेगा। इस नक्षत्र में सोना खरीदना चाहिए ये की वाहन? आओ ...
4
4
5
प्रत्येक नक्षत्र का एक प्रतिनिधित्व वृक्ष या पौधा होता है। इसी तरह पुष्‍य नक्षत्र का भी एक पेड़ है जिसकी पूजा करने से सभी तरह का संकट मिटता है और लक्ष्मी की प्राप्ति होती है।
5
6
Guru Pushya Nakshtra : गुरु-पुष्य नक्षत्र के दिन खरीदारी स्नानादि से शुद्ध पवित्र होकर ही लेने जाना चाहिए। काम की बातें....
6
7
Guru Pushya Nakshatra पुष्य नक्षत्र का शाब्दिक अर्थ है पोषण करना या पोषण करने वाला। इसे तिष्य नक्षत्र के नाम से भी जानते हैं। तिष्य शब्द का अर्थ है शुभ होना। कुछ ज्योतिष पुष्य शब्द को पुष्प शब्द से निकला हुआ मानते हैं। पुष्प शब्द अपने आप में ...
7
8
Guru Pushya Nakshatra Yoga 2021: गुरु पुष्‍य नक्षत्र का दिन बहुत ही शुभ दिन होता है। इस नक्षत्र में शुभ खरीद के साथ ही और क्या कार्य करना चाहिए ( Guru pushya nakshatra me kya kare ) आओ जानते हैं।
8
8
9
Guru Pushya Nakshatra Yoga 2021: आज 28 अक्टूबर 2021 को गुरु पुष्‍य नक्षत्र का महासंयोग बन रहा है। दीपावली के पूर्व आने वाले पुष्‍य नक्षत्र को सबसे खास माना जाता है। उसमें भी गुरु पुष्‍य नक्षत्र सबसे शुभ होता है। आओ जानते हैं इस शुभ नक्षत्र का ...
9
10
guru pushya nakshatra आज है समस्त शुभ योग में उत्तम गुरु पुष्य नक्षत्र, आइए जानते हैं संक्षेप में जरूरी जानकारी guru pushya nakshatra
10
11
GURU PUSHYA NAKSHATRA : तस्वीरों में जानिए पुष्य नक्षत्र के बारे में... पुष्य नक्षत्र 2021 इस बार की खरीदी के महामुहूर्त, महासंयोग, महाअवसर....
11
12
guru pushya nakshatra 2021 पुष्य नक्षत्र बहुत बहुत खास और पवित्र माना गया है उसमें भी कार्तिक पुष्य नक्षत्र का विशेष महत्व है, क्योंकि इसका संबंध कार्तिक मास के प्रधान देवता भगवान लक्ष्मी नारायण से है। वेबदुनिया टीम ने संजोई है हर वो सामग्री जो है ...
12
13
Diwali 2021 Muhurat Time : दीपावली के महोत्सव पांच दिनों का रहता है। जिसमें पहले दिन धनतेरस, दूसरे दिन नरक चतुर्दशी यानि रूप चौदस, तीसरे दिन कार्तिक अमावस्या पर दिवाली, चौथे दिन गोवर्धन पूजा जिसे अन्नकूट महोत्सव भी कहते हैं और पांचवें दिन भाई दूज का ...
13
14
पुष्य नक्षत्र के लोग दिखने में यह सुंदर, स्वस्थ, सामान्य कद-काठी के तथा चरित्र में विद्वान, चपल, स्त्रीप्रिय व बोल-चाल में चतुर होते हैं। इस नक्षत्र में जन्में लोग जनप्रिय और नियम पर चलने वाले होते हैं तथा खनिज पदार्थ, पेट्रोल, कोयला, धातु, पात्र, ...
14
15
guru pushya nakshatra धनतेरस और दिवाली के पहले खरीदारी के श्रेष्ठ शुभ मुहूर्त का निर्माण होने जा रहा है। यह शुभ मुहूर्त गुरु-पुष्य नक्षत्र के रूप में 28 अक्टूबर को प्रातः 9:40 से शुक्रवार सुबह 11:37 तक रहेगा।
15
16
Dhanteras 2021 : धनतेरस पर ग्रह गोचर के अनुसार 6 राशियों को लाभ मिलेगा। जल्दी से चेक करें कहीं आपकी राशि तो नहीं है इन 6 राशियों में शामिल। आओ जानते हैं 2 नवंबर 2021 पर 6 खास राशियों का राशिफल।
16
17
Guru Pushya Nakshatra Yoga 2021: धनतेरस और दिवाली के पूर्व खरीदारी और नए कार्यों का शुभारंभ करने का दुर्लभ और महासंयोग बन रहा है। इस समय खरीदी ( Diwali shopping ) गई कोई भी वस्तु अक्षय रहती है और प्रारंभ किया गया कोई भी कार्य निश्चित ही सफल होता है। ...
17
18
Guru Pushya Nakshatra 28 October 2021- गुरु पुष्य नक्षत्र और शुक्र पुष्य नक्ष‍त्र का महासंयोग, महामुहूर्त है 28 और 29 अक्टूबर 2021 को, आइए जानते हैं इस शुभ दिन से संबंधित समस्त सामग्री एक साथ, दी गई लिंक पर क्लिक कीजिए, हर लिंक पर खुलेगा एक नया राज ...
18
19
Guru Pushya Nakshatra Yog 2021: पुष्य नक्षत्र का संयोग जिस भी वार के साथ होता है उसे उस वार से कहा जाता है। गुरु-पुष्य, शनि पुष्य और रवि पुष्य योग सबसे शुभ माना जाता है। दीपावली के पूर्व आने वाला पुष्य नक्षत्र विशेष होता है, क्योंकि यह मुहूर्त ...
19