शनि जयंती पर राशि अनुसार क्या करें कि मिले शांति और संपन्नता का आशीष


शनिदेव कर्म और सेवा के कारक हैं यानी इसका सीधा-सीधा असर व्यक्ति की नौकरी और व्यवसाय पर होता है। अत: अब नौकरी और व्यवसाय में आ रहे कष्ट समाप्त होंगे। आइए जानते हैं सभी 12 राशियों के अनुसार शनि जयंती के क्या हैं सरल उपाय...


मेष राशि के जातकों के लिए शनि के उपाय : शनि जयंती के दिन अपने घर में श्री शिव रुद्राभिषेक करवाएं।

वृषभ राशि के जातकों के लिए शनि के उपाय : शनि जयंती पर महामृत्युंजय मंत्र का जाप करें।

मिथुन राशि के जातकों के लिए शनि के उपाय : शनि जयंती पर महाराज दशरथकृत नील शनि स्तोत्र का पाठ अवश्य करें।

कर्क राशि के जातकों के लिए शनि के उपाय : शनि जयंती के दिन एक लोहे के कटोरे में सरसों भरकर अपना चेहरा उसमें देखकर छाया दान करें।
सिंह
राशि
के जातकों के लिए शनि के उपाय :
शनि जयंती के दिन काले तिलों अथवा साबुत उड़द का दान करें।

कन्या राशि के जातकों के लिए शनि के उपाय : शनिदेव के बीज मंत्र 'ॐ प्रां प्रीं प्रौं स: शनैश्चराय नम:' का नियमित जाप करें।

तुला राशि के जातकों के लिए शनि के उपाय : शनि जयंती के साथ आपको नियमित रूप से शमी वृक्ष को जल देकर उसकी पूजा करनी चाहिए।
वृश्चिक राशि के जातकों के लिए शनि के उपाय : शनि जयंती के अलावा भी हर दिन किसी गरीब अथवा असहाय की यथासंभव सहायता करें।

धनु राशि के जातकों के लिए शनि के उपाय : शनि जयंती पर चींटियों के स्थान पर चीनी और गेहूं का आटा डालें।

मकर राशि के जातकों के लिए शनि के उपाय : शनि जयंती पर महाराज दशरथकृत नील शनि स्तोत्र का पाठ अवश्य करें।

कुंभ राशि के जातकों के लिए शनि के उपाय : शनि जयंती के दिन, शनि के नक्षत्रों और शनि की होरा में उत्तम गुणवत्ता का नीलम रत्न धारण करें।
मीन राशि के जातकों के लिए शनि के उपाय : अपने से छोटों से अच्छा व्यवहार करें और किसी धार्मिक स्थल के मुख्य द्वार पर सफाई करें।



और भी पढ़ें :