जनवरी 2022 में पड़ने वाले व्रत और त्योहार

पुनः संशोधित मंगलवार, 28 दिसंबर 2021 (17:36 IST)
हमें फॉलो करें
January 2022 Divas Vrat & Festival Calendar: नया वर्ष 2022 प्रारंभ होने वाला है। नए साल के प्रथम माह जनवरी माह के प्रमुख व्रत और त्योहारों की लिस्ट। अंग्रेजी कैलेंडर के अनुसार वर्ष के प्रथम माह जनवरी में खासकर मकर संक्रांति और पोंगल का ही पर्व आता है।


1 जनवरी, शनिवार : इस दिन कृष्‍ण पक्ष की चतुर्दशी है। चतुर्दशी को मासिक शिवरात्रि रहती है।

2 जनवरी, रविवार : इस दिन पौष मास की अमावस्या है। इस दिन तर्पण और श्राद्ध करने का महत्व है। साथ ही इस दिन कालसर्प दोष और पितृदोष निवारण किया जा सकता है।

13 जनवरी, गुरुवार : इस दिन शुक्ल पक्ष की एकादशी है जिसे पौष पुत्रदा एकादशी कहते हैं। इसके व्रत से संतान सुख की प्राप्ति होती है।
14 जनवरी, शुक्रवार : इस दिन मकर संक्रांति के साथ ही पोंगल और लोहड़ी का पर्व है। इसी दिन से सूर्य उत्तरायण होगा। इस दिन पतंगोत्सव भी है।
Pongal 2022
15 जनवरी, शनिवार : इस दिन शुक्ल पक्ष का प्रदोष व्रत रखा जाएगा। हर माह की त्रयोदशी को प्रदोष का व्रत रखा जाता है।
17 जनवरी, सोमवार : इस दिन पौष मास की पूर्णिमा के व्रत रखा जाएगा। इस दिन दान-पुण्य करते, सूर्य को जल चढ़ाते और पवित्र नदी में स्नान करते हैं। इस दिन सूर्य की पूजा करने से मोक्ष की प्राप्ति होती है।

19 जनवरी, बुधवार : इस दिन ओशो रजनीश का निर्वाण दिवस है।

21 जनवरी, शुक्रवार
:
इस दिन संकष्टि चतुर्थी का व्रत रखा जाएगा। संकष्टी चतुर्थी का व्रत भगवान गणेश को समर्पित है और माना जाता है कि इस दिन जो कोई भी व्यक्ति पूजा और व्रत करता है उन्हें बुद्धि, स्वास्थ्य, और धन का असीम वरदान प्राप्त होता है।
24 जनवरी, सोमवार : माघ माह के कृष्‍ण पक्ष की सप्तमी पर स्वामी रामानंदाचार्य की जयंती है।

26 जनवरी, बुधवार : माघ माह की कृष्‍ण नवमी को श्री भीष्म पितामह निर्वाण दिवस।

28 जनवरी, शुक्रवार : इस दिन षटतिला एकादशी का व्रत रखा जाएगा। इस दिन भगवान विष्णु के बैकुंठ रूप की पूजा की जाती है। इस दिन तिल का बड़ा महत्व है।

29 जनवरी, शनिवार : इस दिन शनि प्रदोष का व्रत रखा जाएगा।

30 जनवरी, रविवार : इस दिन शुक्ल पक्ष की चतुर्दशी है, जिसे मासिक शिवरात्रि कहते हैं। मासिक शिवरात्रि का व्रत भगवान शिव को समर्पित होता है।

31 जनवरी, सोमवार : इस दिन श्राद्ध की अमावस्या रहेगी। भगवान ऋषभनाथ का निर्वाण दिवस और अवतार मेहर बाबा की पुण्यतिथि रहेगी।



और भी पढ़ें :