भारत बनेगा विश्वकप विजेता-पोंटिंग

अहमदाबाद| भाषा|
हमें फॉलो करें
भारत के हाथों क्रिकेट विश्वकप के क्वार्टर फाइनल में हार झेलकर ऑस्ट्रेलिया का फिलहाल भले ही अभियान रूक गया हो लेकिन गत विजेता टीम के कप्तान रिकी पोंटिंग का कहना है कि इस हार को उनके देश की क्रिकेट का एक युग समाप्त होना नहीं समझा जाना चाहिए।


अपनी कप्तानी में ऑस्ट्रेलिया को तीसरी बार विश्वकप खिताब दिलाने का सपना चूर-चूर होने के बाद पोंटिंग ने संभावना व्यक्त की कि भारत सेमीफाइनल में पाकिस्तान को हरा देगा और महेंद्र सिंह धोनी की टीम 28 साल बाद खिताब हासिल करने की प्रबल दावेदार है।

भारत के खिलाफ कल रात यहाँ मिली पाँच विकेट की हार के बाद पोंटिंग ने संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘भारत एक टीम के रूप में अच्छा खेला और वह जीत का हकदार है। हम अच्छा नहीं खेल सके। आगामी मैचों में उन्हें हराना काफी मुश्किल होगा। सेमीफाइनल में वे (भारत) पाकिस्तान को हरा देंगे और बाद में विश्वकप जीत लेंगे।’

पोंटिंग ने कहा, ‘भारत का बल्लेबाज क्रम काफी मजबूत है। हमने काफी प्रतिस्पर्धी क्रिकेट खेली लेकिन मैं लगातार दो हार (पाकिस्तान के खिलाफ लीग मैच और भारत के खिलाफ क्वार्टर फाइनल में) से काफी निराश हूँ।’


पोंटिंग ने इन बातों को खारिज किया कि क्वार्टर फाइनल की हार के साथ ही ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट का एक युग समाप्त हो गया। उन्होंने कहा, ‘यह कहना जल्दबाजी होगी कि यह ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट के युग का अंत है।, भारत के खिलाफ काफी अच्छा मैच हुआ। मुझे नहीं लगता कि हम भारतीय टीम के खिलाफ उनकी सरजमीं पर जीत से काफी दूर थे। मुझे लगता है कि यह कहना जल्दबाजी है कि यह एक युग का अंत है।’
पोंटिंग ने स्पष्ट किया कि वह अगले विश्वकप में भाग नहीं लेंगे लेकिन उन्होंने साथ ही एकदिवसीय क्रिकेट से संन्यास लेने की बातों को खारिज किया।

उन्होंने कहा, ‘मैं एकदिवसीय क्रिकेट को अलविदा नहीं कह रहा हूँ लेकिन संभवत: यह मेरा अंतिम विश्वकप मैच था। मैं संन्यास लेने के बाद इस बात पर खुश होऊँगा कि मैंने विश्वकप की अपनी अंतिम पारी में शतक लगाया।’
ऑस्ट्रेलियाई कप्तान ने कहा, ‘हम बल्लेबाजी करते हुए 15 से 20 रन पीछे रह गए। 250-260 अच्छा स्कोर था लेकिन हमने गलत समय पर विकेट गँवाए और कभी भी लय बरकरार नहीं रख सके। हम अपनी योजनाओं को सही तरह से लागू नहीं कर सके।’ (भाषा)



और भी पढ़ें :