तेनालीराम की कहानियां : खूंखार घोड़ा

Tenali Raman ke Kisse
FILE
Tenali Raman ke Kisse



विजयनगर के पड़ोसी मुसलमान राज्यों के पास बड़ी मजबूत सेनाएं थीं। राजा कृष्णदेव राय चाहते थे कि विजयनगर की घुड़सवार फौज भी मजबूत हो ताकि हमला होने पर दुश्मनों का सामना कुशलता से किया जा सके।

उन्होंने बहुत से अरबी घोड़े खरीदने का विचार किया। मंत्रियों ने सलाह दी कि घोड़ों को पालने का एक आसान तरीका यह है कि शांति के समय ये घोड़े नागरिकों को रखने के लिए दिए जाएं और जब युद्ध हो तो उन्हें इकट्ठा कर लिया जाए।



और भी पढ़ें :