राष्ट्रमंडल खेल: ब्रांड एंबेसडर को लेकर असमंजस

नई दिल्ली| भाषा|
हमें फॉलो करें
राष्ट्रमंडल खेलों के ब्रांड एंबेसडर को लेकर आयोजन समिति अब भी किसी एक का नाम तय नहीं कर पाई, क्योंकि इसके कुछ सदस्यों का मानना है कि जिस व्यक्ति को भी यह महत्वपूर्ण ओहदा सौंपा जाए वह अवैतनिक होना चाहिए।


सबसे पहले ब्रांड एम्बेसडर के लिए बॉलीवुड महानायक अमिताभ बच्चन का नाम सुखिर्यों में आया जो 1982 एशियाई खेलों के ब्रांड एंबेसडर थे। आयोजन समिति ने शाहरूख खान और आमिर खान के नाम पर भी चर्चा की।

आयोजन समिति के अध्यक्ष सुरेश कलमाड़ी ने हालाँकि बाद में साफ किया कि कोई खिलाड़ी ही ब्रांड एंबेसडर बनेगा, जिससे किसी फिल्मी हस्ती के ब्रांड एंबेसडर बनने की अटकलों पर विराम लगा। इसके बाद से बीजिंग ओलंपिक के कांस्य पदक विजेता मुक्केबाज विजेंदरसिंह और महिला विश्व चैंपियन एमसी मैरीकाम का नाम सबसे आगे चल रहा है।

अमिताभ के नाम का प्रस्ताव रखने वाले आयोजन समिति से जुड़े भारतीय तीरंदाजी संघ के अध्यक्ष विजय कुमार मल्होत्रा ने माँग की है कि यह पद मानद होना चाहिए। उन्होंने कहा कि ब्रांड एंबेसडर का फैसला आयोजन समिति अकेले न करे। इसका फैसला कार्यकारी बोर्ड में होना चाहिए। इसके अलावा जिस व्यक्ति को भी यह पद सौंपा जाए उसे इसके बदले पैसे नहीं मिलने चाहिए। उन्होंने इसके साथ ही कहा कि बेटन के लिए बुलाए जाने वाली हस्तियों तथा उद्घाटन और समापन समारोह में भाग लेने वाले वरिष्ठ कलाकारों को भी अवैतनिक सेवाएँ देनी चाहिए। (भाषा)



और भी पढ़ें :