रिलीज होते ही इंटरनेट पर बेच देते थे फिल्म

इंदौर| भाषा| पुनः संशोधित मंगलवार, 30 अप्रैल 2013 (08:21 IST)
हमें फॉलो करें
इंदौर। पुलिस की अपराध शाखा ने फीचर फिल्मों की पायरेसी के अंतरराष्ट्रीय गिरोह के खुलासे का दावा करते हुए उसके दो शातिर सदस्यों को धर दबोचा।


पुलिस अधीक्षक (मुख्यालय) रुडोल्फ अल्वारेज और अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक (अपराध शाखा) जितेंद्र सिंह ने बताया कि आरोपियों की पहचान रूपेश जायसवाल (28) और महेंद्र शर्मा उर्फ टीनू (25) के रूप में हुई है।

उन्होंने बताया कि दोनों आरोपी सिनेमाघरों में प्रदर्शित होने वाली नयी फिल्मों को उच्च गुणवत्ता वाले एचडी कैमरे में रिकॉर्ड करते थे। इसके बाद वे फिल्मों की कॉपी को और कूरियर के जरिये देश-दुनिया के ग्राहकों तक पहुंचाते थे।

पुलिस अधिकारियों के मुताबिक शुरुआती जांच में पता चला है कि जायसवाल और शर्मा के तार मध्यप्रदेश, गुजरात, राजस्थान और दिल्ली के साथ-साथ पाकिस्तान और सिंगापुर से भी जुड़े हैं।


पुलिस ने आरोपियों के कब्जे से कम्प्यूटर, ग्राफिक कार्ड और डीवीडी राइटर समेत अलग-अलग उपकरण बरामद किए हैं। उनके कब्जे से करीब 200 डीवीडी भी बरामद की गई हैं। पुलिस मामले की विस्तृत जांच कर रही है। (भाषा)



और भी पढ़ें :