अंतिम रस्म भी सुरक्षाकर्मियों ने निभाई...

‍'शिव के धाम' में प्राकृतिक आपदा ने हजारों लोगों को पल भर में मौत की नींद सुला दिया। देश के कोने-कोने से आए श्रद्धालुओं ने न जाने किस जगह आखिरी सांस ली, यह कोई नहीं जानता। किसी का पिता बिछुड़ा तो किसी का सुहाग उजड़ा... किसी का भाई गुजर गया तो किसी बहन ने सदा के लिए आंखें मूंद ली... न जाने कितने ऐसे परिवार हैं, जिन्हें अपनों की आखिरी सूरत भी देखना नसीब नहीं हुई।

केदारनाथ की आपदा में मारे गए श्रद्धालुओं का पूरे सम्मान और धार्मिक आस्थाओं को ध्यान में रखकर किया गया। अंतिम संस्कार की गवाह बनी ये तस्वीरें...

WD

सामूहिक दाह संस्कार के दौरान घी व संस्कार में प्रयुक्त होने वाली अन्य सामग्री।




और भी पढ़ें :