डीएनए टेस्ट से पकड़ाया गुड़िया का गुनाहगार

इंदौर| भाषा|
हमें फॉलो करें
FILE
इंदौर। पुलिस ने यहां चार वर्षीय बच्ची के साथ दुष्कर्म की 10 दिन पुरानी गुत्थी को के आधार पर सुलझाने का दावा करते हुए आरोपी को धर दबोचा। इस दुष्कर्मी पर एक लाख रुपए का इनाम घोषित था।

उच्च पदस्थ पुलिस सूत्रों ने बताया कि आरोपी की पहचान शिवा भील (25) के रूप में हुई है। वह मूलत: मध्यप्रदेश के बड़वानी जिले का रहने वाला है और इंदौर में पिछले कुछ वक्त से हम्माली कर रहा था।

उन्होंने बताया कि शिवा ने राऊ कस्बे में 12 अप्रैल की सुबह ठंडा पेय दिलाने का लालच देकर मासूम बच्ची को उसके घर के पास से अगवा किया था। फिर एक नाले के नजदीक उसके साथ किया था।

सूत्रों ने बताया कि दुष्कर्म के बाद आरोपी भाग निकला, जबकि इस घिनौनी वारदात की शिकार बच्ची उसके परिजन को बुरी तरह घायल मिली थी।


सूत्रों के मुताबिक पीड़ित बच्ची को अस्पताल में भर्ती कराया गया था। हालांकि, अब उसकी हालत खतरे से पूरी तरह बाहर है और उसे अस्पताल से तीन दिन पहले छुट्टी मिल चुकी है।
सूत्रों ने बताया कि बच्ची से दुष्कर्म के मामले में शिवा को हफ्ते भर पहले संदेह के आधार पर हिरासत में लिया गया था। उसके गले पर खरोंच के निशान भी पाए गए थे। लेकिन पुलिस की पूछताछ के दौरान उसने बच्ची से बलात्कार के आरोप से साफ इंकार कर दिया था।

बहरहाल, जब पुलिस ने जांच कराई तो शिवा का डीएनए उन नमूनों से मेल खा गया, जो पीड़ित बच्ची के शरीर से मेडिकल परीक्षण के दौरान लिये गये थे।
सूत्रों ने बताया कि पुलिस को डीएनए टेस्ट की रिपोर्ट कल 22 अप्रैल की रात मिली। इसके आधार पर शिवा को गिरफ्तार कर लिया गया।

सूत्रों ने बताया कि शिवा आदतन शराबी है। वह बच्ची से दुष्कर्म के बाद नर्मदा स्नान के लिए नजदीकी खरगोन जिले के बड़वाह गया था। (भाषा)



और भी पढ़ें :