अप्रत्याशित बारिश से भूजल स्तर में होगा इजाफा

जालंधर| भाषा|
हमें फॉलो करें
FILE
जालंधर। पंजाब में धान की रोपाई के मौसम में हो रही जबरदस्त के बारे में कृषि विशेषज्ञों का कहना है कि इससे न केवल किसानों को होगी और कृषि खर्च कम होगा बल्कि प्रदेश में गिरते को सामान्य बनाए रखने की दिशा में भी यह बारिश लाभकारी होगी।


पंजाब में पिछले कुछ दिनों से लगातार बारिश हो रही है और अभी यहां धान की रोपाई का मौसम चल रहा है। इस बारिश के बारे में कृषि विशेषज्ञों को कहना है कि किसानों को तो इससे फायदा है ही दूसरी ओर राज्य सरकार को जहां एक ओर बिजली की बचत हो रही है वहीं दूसरी ओर जमीन के नीचे से पानी नहीं निकाला जा रहा है।

पंजाब सरकार के कृषि विभाग के निदेशक डॉ. मंगल सिंह संधू ने कहा कि बारिश न केवल धान की फसल और किसानों के लिए लाभदायक है बल्कि यह भूजल बचाने में भी हमारी मदद कर रहा है।

इसका सबसे बड़ा फायदा हुआ है कि बारिश के कारण जमीन के नीचे से पानी निकालने की उस पैमाने पर आवश्यकता इस साल नहीं हुई है जितनी पिछले सालों में होती थी। बारिश के कारण हम भूजल को भी बचाने में कामयाब हुए हैं।


दूसरी ओर कृषि के जानकारों का कहना है कि मौसम विभाग के अनुसार पंजाब में जून महीने में इस साल अब तक 112 मिमी से अधिक बारिश दर्ज हुई है, जो राज्य में जून में होने वाली बारिश के मुकाबले औसतन लगभग 60 फीसदी अधिक है। इसका फायदा यह हुआ है कि इससे लगभग 25 फीसदी भूजल को बचाया गया है। (भाषा)



और भी पढ़ें :