सपा का बसपा व संप्रग सरकार पर हमला

आगरा (भाषा) | भाषा| पुनः संशोधित बुधवार, 19 अगस्त 2009 (20:53 IST)
हमें फॉलो करें
समाजवादी पार्टी प्रमुख ने उत्तरप्रदेश में मायावती सरकार के खिलाफ राज्यव्यापी भरो आंदोलन चलाने की घोषणा करते हुए केंद्र से भी अपनी नीतियों में सुधार करने की माँग की। हालाँकि उन्होंने कांग्रेस के नेतृत्व वाली सरकार से समर्थन वापस लेने के मुद्दे पर कोई टिप्पणी नहीं की।


पार्टी के विशेष के उद्घाटन सत्र में यादव ने कहा कि जेल भरो आंदोलन सांकेतिक नहीं होगा। आप सब को जेल जाना होगा। मैं में गिरफ्तारी दूँगा। उन्होंने कहा कि हर मोर्चे पर विफल रहने के कारण मायावती सरकार के खिलाफ आंदोलन की तारीख की घोषणा जल्दी ही की जाएगी।
प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री ने महँगाई, किसानों की आत्महत्या और विदेश नीति को लेकर केंद्र की संप्रग सरकार की भी आलोचना की। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री ने लोगों को आश्वस्त किया था कि आवश्यक वस्तुओं की कीमतें नई सरकार के पहले 100 दिनों के अंदर कम हो जाएँगी। उन्होंने ऐसा वायदा क्यों किया जब उसे वे पूरा नहीं कर सकते हैं।

केंद्र की आलोचना करने के बावजूद सपा प्रमुख यादव ने संप्रग सरकार से समर्थन वापस लेने के बारे में कोई टिप्पणी नहीं की।


यादव ने कहा कि केंद्र द्वारा ऋण माफी योजना की घोषणा किए जाने के बावजूद किसानों की आत्महत्याएँ जारी हैं। इसका कारण ऋण माफी का सिर्फ कागज पर होना है। किसानों ने साहूकारों से भी कर्ज लिया था और उनकी समस्याएँ बरकरार हैं।
उन्होंने कहा कि संप्रग सरकार को आर्थिक मुद्दों से संबंधित नीतियों के अलावा विदेश नीति में संशोधन करना चाहिए। अगर वे ऐसा करते हैं तो उन्हें ही मदद मिलेगी।

राष्ट्रीय कार्यकारिणी द्वारा मंजूर राजनीतिक एवं आर्थिक संकल्प में कांग्रेस पर आरोप लगाया गया कि वह बसपा के संबंध में दोहरे मानदंड अपना रही है।
उन्होंने कहा कि सपा का मानना है कि बसपा के संबंध में कांग्रेस दोहरा मानदंड अपना रही है। सपा बसपा और कांग्रेस के गठजोड़ को समझती है और महसूस करती है कि कांग्रेस बसपा के खिलाफ निर्णायक संघर्ष नहीं कर सकती।

पार्टी ने इस बात पर आश्चर्य व्यक्त किया कि मुख्यमंत्री मायावती के खिलाफ प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष रीता बहुगुणा जोशी की कथित अपमानजनक टिप्पणी पर कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गाँधी ने क्यों खेद व्यक्त किया। यादव ने कहा, कि रीता का घर जला दिया गया और उन्हें टिप्पणी के लिए जेल जाना पड़ा। तब भी कांग्रेस अध्यक्ष ने खेद व्यक्त किया।



और भी पढ़ें :